नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 31 अक्टूबर को दुनिया की सबसे ऊंची सरदार बल्लभ भाई पटेल की प्रतिमा का अनावरण करेंगे. देश के पहले गृहमंत्री सरदार बल्लभ भाई पटेल का जन्मदिन भी 31 अक्टूबर को है. गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपानी ने बीजेपी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक के बाद इस बात की जानकारी दी.

रुपानी ने कहा कि पीएम मोदी ने गुजरात के मुख्यमंत्री के रूप में सरदार वल्लभ भाई पटेल की प्रतिमा बनाने का जो संकल्प लिया था वो अब पूरा होने जा रहा है, 31 अक्टूबर 2018 को सरदार वल्लभ भाई पटेल की जन्म जयंती पर दुनिया की सबसे पड़ी प्रतिमा ‘Statue of Unity’ का लोकार्पण किया जायेगा.

रुपानी ने कहा कि आज कुछ लोग देश की एकता और अखंडता और साथ ही समाज को तोड़ने का काम कर रहे हैं उसके सामने एकता के प्रतिक के रूप में ‘स्टैच्यू ऑफ यूनिटी’ खड़ा होने जा रहा है जो देश के लिए एक गौरव की बात बनेगा. इसका निर्माण केवड़िया में नर्मदा नदी पर बने सरदार सरोवर बांध से 3.32 किलोमीटर दूर साधु बेट पर हो रहा है. 

बता दें कि स्टैच्यू ऑफ यूनिटी का उद्घाटन  31 अक्तूबर, 2013 को नरेंद्र मोदी ने किया था. उस वक्त वे गुजरात के मुख्यमंत्री थे. इसके निर्माण के लिए बीजेपी ने देशभर से लोहा इकट्ठा करने का अभियान चलाया था. इसे दुनिया की सबसे ऊंची मूर्ति बताया जा रहा है.  इसकी ऊंचाई  182 मीटर है जिसे बनाने का जिम्मा अग्रणी इंजीनियरिंग कंपनी लार्सन एंड टुब्रो (एलएंडटी) को दिया था. इसके निर्माण में 2,979 करोड़ रुपये की लागत बताई गई है. 

बीजेपी राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में बोले अमित शाह- 2019 में जीत के बाद 50 साल तक कोई नहीं हटा सकता

BJP राष्ट्रीय कार्यकारिणी में विपक्ष पर पीएम नरेंद्र मोदी का हमला, कहा- महागठबंधन की नीति अस्पष्ट और नीयत भ्रष्ट

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App