नई दिल्लीः भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की दो दिवसीय राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक जारी है. बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी, बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह, तमाम केंद्रीय मंत्रियों समेत बीजेपी शासित कई राज्यों के मुख्यमंत्री शामिल हुए हैं. बैठक में पीएम नरेंद्र मोदी ने एक बार फिर विपक्ष पर हमलावर रुख अख्तियार किया. पीएम मोदी ने कहा कि 2019 में होने जा रहे लोकसभा चुनाव में बीजेपी के सामने खड़े होने वाले ‘महागठबंधन’ की नीति अस्पष्ट है और नीयत भ्रष्ट है.

पीएम नरेंद्र मोदी ने अपने भाषण में ‘अजेय भारत-अटल भाजपा’ का नारा देते हुए कहा, ‘हम विकास मानवीयता के साथ चाहते हैं. हम देश का वैभव चाहते हैं लेकिन सादगी के धरातल पर. महागठबंधन में नेतृत्व का पता नहीं, नीति अस्पष्ट है और नीयत भ्रष्ट है. जो लोग एक दूसरे को देख नहीं सकते, एक साथ चल नहीं सकते आज वो गले लगने को मजबूर हैं. हम सत्ता को कुर्सी के रूप में नहीं देखते बल्कि सत्ता को जनता के बीच में काम करने का उपकरण समझते हैं.’

पीएम मोदी ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को याद करते हुए भावभीनी श्रद्धांजलि दी और कहा, ‘अटल जी ने भाजपा के विचार, संस्कार और भाजपा के नेतृत्व को एक नई ऊंचाई दी. आज हमारा सूरज तो चला गया लेकिन हम जो सितारे हैं वो इतना चमके की विचारधारा के प्रकाश को आगे बढ़ाएं.’ बताते चलें कि दो दिवसीय राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक का आज आखिरी दिन है. बैठक को कई केंद्रीय मंत्रियों और पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ने संबोधित किया.

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने भी विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा, ‘विपक्ष के पास ना कोई नेता है, ना कोई नीति है और ना ही कोई रणनीति है इसीलिए विपक्ष हताश है और नकारात्मकता की राजनीति कर रहा है.’ उन्होंने आगे कहा कि बैठक में गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने राजनीतिक प्रस्ताव रखा जिसमें बताया गया है कि किस प्रकार आज देश में एक इनोवेशन का कल्चर शुरू हुआ है. खुद की तरक्की करते हुए लोग देश की तरक्की में सहभागी हो रहें हैं. इस प्रस्ताव को पास किया गया और सभी नेताओं द्वारा इस प्रस्ताव में विश्वास जताया गया है कि ‘न्यू इंडिया’ का सपना पूरा होकर ही रहेगा.

बीजेपी राष्ट्रीय कार्यकारिणी बैठक में पीएम नरेंद्र मोदी ने दिया ‘अजेय भारत अटल भाजपा’ का नारा, जानें अहम बातें

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App