श्रीनगरः जम्मू-कश्मीर में मुफ्ती सरकार के गिरने के बाद से राज्यपाल शासन लगा हुआ है. सियासी दल राज्य में नई सरकार के गठन की कवायद में जुटे हैं. इस बीच पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) के विधायकों की पार्टी नेतृत्व से नाराजगी की भी खबरें सामने आईं. इन खबरों को तब बल मिल गया जब पीडीपी विधायक अब्दुल माजिद पद्दार ने दावा किया कि नई सरकार बनाने के लिए पीडीपी के ज्यादातर विधायक बीजेपी से हाथ मिलाने को तैयार हैं.

अंग्रेजी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक, पीडीपी विधायक पद्दार ने कहा कि पार्टी के 28 में से 18 विधायक बीजेपी के साथ हाथ मिलाने को तैयार हैं. पद्दार ने इस बात की ओर भी इशारा किया कि सभी विधायक नई सरकार के गठन के लिए बीजेपी से बातचीत कर रहे हैं. पीडीपी एमएलए ने कहा, ‘जब मेरे नेता स्वर्गीय मुफ्ती मोहम्मद सईद बीजेपी के साथ गठबंधन कर सकते थे, तो हम बीजेपी के साथ सरकार क्यों नहीं बना सकते?’

पीडीपी नेता और राज्य की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने एक दिन पहले उनकी पार्टी तोड़ने पर बीजेपी को चेतावनी दी थी. महबूबा मुफ्ती ने कहा था कि अगर उनकी पार्टी को तोड़ने की कोशिश की गई तो यह आतंकवाद को उकसाने वाला कदम साबित होगा. बता दें कि यह पहला मौका है जब पीडीपी के किसी विधायक ने मीडिया के सामने आकर पार्टी के भीतर विधायकों के असंतोष की बात को स्वीकार किया है.

दूसरी ओर बीजेपी के सूत्र भी पीडीपी विधायकों के उनके शीर्ष नेतृत्व के संपर्क में होने की बात कबूल चुके हैं. ऐसे में अगर पीडीपी विधायक बीजेपी के साथ जाते हैं तो यह पार्टी नेता महबूबा मुफ्ती के लिए किसी झटके से कम नहीं होगा. गौरतलब है कि 87 विधानसभा सीटों वाले जम्मू-कश्मीर में सरकार बनाने के लिए किसी भी दल के पास 44 विधायकों का होना जरूरी है. अभी विधानसभा में बीजेपी के 25 विधायक हैं.

पद्दार के दावे पर यकीन करें तो 18 विधायक बीजेपी के साथ हाथ मिलाने को तैयार हैं. ऐसे में इनकी संख्या 43 होगी. माना जा रहा है कि बीजेपी की सरकार बनाने के लिए विधायकों की कमी को पीपुल्स कॉन्फ्रेंस पूरा करेगी. पीपुल्स कॉन्फ्रेंस के राज्य में दो विधायक हैं. हालांकि बीजेपी के शीर्ष नेतृत्व ने अभी इस बारे में कुछ नहीं कहा है. बीजेपी के एक वरिष्ठ नेता का कहना है कि पार्टी राज्य की बेहतरी को ध्यान में रखते हुए अपने अगले कदम पर बारीकी से विचार कर रही है.

महबूबा मुफ्ती की धमकी पर BJP नेता राम माधव का पलटवार, कहा- सरकार और सेना आतंकवादियों के खात्मे में सक्षम, शशि थरूर को भी दिया जवाब

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App