मुंबई. महा विकास अघाड़ी (कांग्रेस-एनसीपी-शिवसेना) की सरकार और उद्धव ठाकरे के सीएम बनने के बाद अब महाराष्ट्र में भारतीय जनता पार्टी को एक और बड़ा झटका लग सकता है. राजनीतिक गलियारों में चर्चा है कि बीजेपी के दिग्गज नेता दिवंगत गोपीनाथ मुंडे की बेटी पंकजा मुंडे बीजेपी के फूल का साथ छोड़कर शिवसेना का हाथ थाम सकती हैं. हालांकि, ये खबरें महज सूत्रों के हवाले से ही हैं लेकिन पंकजा का हालिया फेसबुक पोस्ट ने भी यही इशारा किया. ट्वीटर बायो से भी पंकजा ने बीजेपी का नाम हटा लिया.

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव 2014 में परली विधानसभा सीट से चुनाव जीतकर देवेंद्र फडणवीस सरकार में मंत्री पद संभालने वाली पंकजा मुंडे साल 2019 के चुनाव में इसी सीट से अपने चचेरे भाई और शरद पवार की एनसीपी से उम्मीदवार धनंजय मुंडे के सामने हार गई थीं.

पकंजा की हार पर कई राजनीतिक जानकारों का कहना है कि पिछले चुनाव में पंकजा को उनके पिता और महाराष्ट्र के पूर्व सीएम गोपीनाथ मुंडे के नाम पर वोट मिला लेकिन 5 साल तक वे अपने वोटर्स को बनाकर नहीं रख सकीं और आखिरकार वोटर्स का झुकाव उनके ही भाई की ओर ज्यादा हो गया.

फेसबुक पर बोलीं पंकजा मुंडे- 8- 10 दिन अकेले चिंतन करना चाहती हूं

फेसबुक पर पंकजा मुंडे पोस्ट लिखकर एक इशारा दिया कि वे अब भाजपा के साथ अपना सफर खत्म करने की फिराक में है. उन्होंने फेसबुक पर लिखा ” अपनी ताकत को बदले राजनीतिक परिवेश में समझना काफी जरूरी है. 8-10 दिन विचार के बाद 12 दिसंबर को आप सभी (समर्थक) से मुलाकात करूंगी. इस दिन हमारे नेता गोपीनाथ मुंडे का जन्मदिवस है. मैं अगले कुछ दिनों में तय कर लूंगी कि आगे क्या करना है और किस दिशा में जाना है.”

ट्वीटर पर बदला पंकजा मुंडे ने अपना बायो, हटाया बीजेपी का नाम

पंकजा मुंडे का सिर्फ फेसबुक पोस्ट ही नहीं ट्विटर का बायो भी काफी कुछ कह गया. इन राजनीतिक कयासों के बीच पंकजा मुंडे ने ट्वीटर पर अपना बायो बदलते हुए भारतीय जनता पार्टी का नाम हटा दिया.

 

बीजेपी ने कहा कहीं नहीं जाएंगी पंकजा मुंडे, राज्य में करेंगी पार्टी को मजबूत

पंकजा मुंडे को लेकर चल रहे कयासों को लेकर भारतीय जनता पार्टी महाराष्ट्र विंग ने अपनी प्रतिक्रिया दी है. भाजपा प्रदेश प्रवक्ता शिरीष बोरकर ने कहा कि पंकजा आगे भी बीजेपी के साथ बनी रहेंगी और राज्य की ईकाई को मजबूत करने का काम पूरी जिम्मेदारी से करती रहेंगी.

बीजेपी प्रवक्ता ने आगे कहा कि उन्होंने पंकजा मुंडे का फेसबुक पोस्ट पढ़ा, उस देखकर ये जाहिर नहीं होता कि वे बीजेपी के साथ खुश नहीं हैं. शिरीष बोरकर ने कहा कि पंकजा गोपिनाथ मुंडे की बेटी हैं जिन्होंने राज्य में बीजेपी को खड़ा करने में अहम योगदान दिया था. इसलिए पंकजा ऐसा फैसला नहीं कर सकती हैं.

शिवसेना ने कहा पंकजा शामिल होना चाहती हैं या नहीं ये उनका फैसला

राज्यसभा सांसद संजय राउत ने कहा कि कई बीजेपी नेता पार्टी के संपर्क में है. इसे भी एक इशारा ही कहा जाएगा. वहीं शिवसेना सूत्रों का कहना है कि मातोश्री के दरवाजे सभी के लिए खुले हैं और सीएम उद्धव ठाकरे उन्हें अपनी बहन मानते हैं. हालांकि, शामिल होने का फैसला वे खुद लेंगी.

शिवसेना सूत्रों का तो ये भी कहना है कि महाराष्ट्र के पूर्व सीएम और पंकजा के पिता गोपीनाथ मुंडे भी चाहते थे कि वे भाजपा छोड़कर शिवसेना में शामिल हो जाएं लेकिन बाला साहेब ठाकरे ने उन्हें ऐसा करने से रोका था.

Shiv Sena NCP Congress Govt in Maharashtra: एनसीपी-कांग्रेस और शिवसेना की सरकार, उद्धव ठाकरे- एक्सीडेंटल सीएम ऑफ महाराष्ट्र

Anant Kumar Hegde Devendra Fadnavis CM Claim: बीजेपी सांसद अनंत कुमार हेगड़े का चौंकाने वाला बयान, 40 हजार करोड़ बचाने के लिए देवेंद्र फडणवीस को बनाया गया 80 घंटों का सीएम?

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App