नॉएडा, हरिद्वार महाकुंभ के दौरान श्रद्धुलाओं के फर्जी कोरोना टेस्ट करवाने का मामला सामने आया है. इस मामले में मैक्स कॉपोरेट सर्विस लिमिटेड के मालिक और उनकी पत्नी को नोएडा ( Noida ) से गिरफ्तार किया गया है. दोनों को पुलिस ने उनके घर से गिरफ्तार किया है. बता दें कि इन दोनों ने हरिद्वार कुम्भ के समय फर्जी कोविड जांच कर तकरीबन कई करोड़ का घोटाला किया है.

ऐसे हुआ फर्जीवाड़े का खुलासा

उत्तराखंड पुलिस आयुक्त आलोक सिंह ने बताया कि हरिद्वार कुम्भ के दौरान करोड़ों का फर्जीवाड़ा करने वाले मैक्स कॉपोरेट सर्विस लिमिटेड के मालिक और उनकी पत्नी को उनके घर से गिरफ्तार किया गया है. बता दें इस मामले का खुलासा तब हुआ जब पंजाब के फरीदकोट के रहने वाले एक व्यक्ति विपिन को 22 अप्रैल को एक एसएमएस आया जिसमें बताया गया था कि उनकी कोविड जांच रिपोर्ट निगेटिव आई है.

विपिन ने दावा किया कि उन्होंने कभी कोविड जांच करवाई ही नहीं थी. उन्होंने स्वास्थ्य विभाग और स्थानीय अधिकारियों की इसकी शिकायत की. उन्होंने इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (आईसीएमआर) को भी ई-मेल के जरिए अपनी शिकायत भेजी, जिसके बाद आईसीएमआर ने जांच की तो पाया कि मैक्स कॉर्पोरेट सर्विस लिमिटेड द्वारा यह फर्जीवाड़ा किया गया है.

यह भी पढ़ें:

Chhath Puja 2021: छठ के दौरान भूलकर भी न करें ये काम, जानें किन बातों का रखें ध्यान

Mayawati’s allegation, SP disrespected saints and gurus of Dalit and backward: मायावती का आरोप, सपा ने दलित व पिछड़ों के संतों व गुरुओं का किया तिरस्कार

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर