नई दिल्ली. महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के खिलाफ विवादित बयान को लेकर नासिक पुलिस ने आज केंद्रीय मंत्री नारायण राणे को रत्नागिरी जिले से गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने बताया कि हिरासत में लेने के बाद राणे को संगमेश्वर थाना ले जाया गया। अब उन्हें अदालत में पेश किया जाएगा।

महाराष्ट्र बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने कहा कि नारायण राणे के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट से पता चलता है कि एमवीए सरकार डरी हुई है। यह एक राजनीतिक प्रतिद्वंद्विता है।

वहीं बीजेपी के अध्यक्ष जेपी नड्डा ने ट्वीट कर कहा, ”महाराष्ट्र सरकार द्वारा केंद्रीय मंत्री नारायण राणे जी की गिरफ़्तारी संवैधानिक मूल्यों का हनन है। इस तरह की कार्यवाही से ना तो हम डरेंगे, ना दबेंगे। बीजेपी को जन-आशीर्वाद यात्रा में मिल रहे अपार समर्थन से ये लोग परेशान है. हम लोकतांत्रिक ढंग से लड़ते रहेंगे, यात्रा जारी रहेंगी।”

मालूम हो कि राणे ने रायगढ़ जिले में सोमवार को ‘जन आशीर्वाद यात्रा’ के दौरान कहा था, ‘‘यह शर्मनाक है कि मुख्यमंत्री को यह नहीं पता कि आजादी को कितने साल हो गए हैं। भाषण के दौरान वह पीछे मुड़कर इस बारे में पूछते नजर आए थे। अगर मैं वहां होता तो उन्हें एक जोरदार थप्पड़ मारता।’’ 

Hearing On POCSO Act in SC : एटार्नी जनरल बोले ग्लव्स पहनकर हो सकती है छेड़छाड़

Afghanistan Crisis: अफगानिस्तान मुद्दे पर मोदी-पुतिन की चर्चा 45 मिनट तक चली

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर