मुर्शिदाबाद. पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद में कुछ अज्ञात बदमाशों ने 35 साल के सरकारी स्कूल टीचर और आरएसएस कार्यकर्ता प्रकाश पाल, गर्भवती पत्नी ब्यूटी मोंडल पाल(30) और बेटे आंगन बंधू पाल (6) की खौफनाक तरह से हत्या कर डाली. वारदात को अंजाम देकर आरोपी मौके से फरार हो गए. कुछ समय बाद स्थानीय लोगों ने पुलिस को इस मामले की सूचना दी. पुलिस ने घटनास्थल पर पहुंचकर तीनों शवों को पोस्टमार्ट्म के लिए भेज दिया. अज्ञात आरोपियों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर पुलिस मामले की छानबीन में जुट गई है. दूसरी ओर मामले को लेकर राजनीति भी गरमा गई है. भाजपा के पश्चिम बंगाल प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने राज्य की ममता बनर्जी सरकार पर हमला बोला है.

कैलाश विजयवर्गीय बोले- पश्चिम बंगाल में आम आदमी की जान सुरक्षित नहीं

भाजपा सांसद कैलाश विजयवर्गीय ने आरएसएस कार्यकर्ता की परिवार सहित हत्या को लेकर राज्य की तृलमूल सरकार पर हमला बोला.

बीजेपी सांसद ने ट्वीट कर कहा ”इससे ज्यादा जघन्यता क्या होगी? मुर्शिदाबाद (प.बंगाल) में संघ के कार्यकर्ता श्री प्रकाश पॉल, उनकी गर्भवती पत्नी और 8 साल के बच्चे की नृशंस हत्या कर दी गई! जहां आम आदमी की जान सुरक्षित न हो, उस राज्य की कानून व्यवस्था को अच्छा कैसे माना जाए? ये क्या हो रहा है दीदी आपके राज में?”

आरोपियों ने बेरहमी से की पूरे परिवार की हत्या, शव देखकर सहम गए लोग

मामला मुर्शिदाबाद के जियागंज इलाके का है. मृतक बंधु प्रकाश पाल एक प्राइमरी स्कूल टीचर के साथ-साथ संघ से भी जुड़े थे. बीते दिन अज्ञात बदमाशों ने परिवार के तीनों लोगों पर हमला कर दिया. पड़ोसियों ने घर के भीतर शवों को देखकर पुलिस को सूचना दी. इस घटना के बाद इलाके में सनसनी मची है. मृतक के भाई ने बताया कि प्रकाश 20 साल से स्कूल टीचर हैं जो मूलरूप से शाहपुर के रहने वाले हैं. कुछ समय पहले वे अपने बेटे की पढ़ाई की वजह मुर्शिदाबाद में शिफ्ट हुए.

हत्या के बाद सोशल मीडिया पर लोगों ने ममता बनर्जी सरकार को सुनाई खरी-खोटी

पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद में हुए इस हत्याकांड को लेकर सोशल मीडिया पर लोग अपना गुस्सा जाहिर कर रहे हैं. कई यूजर्स ने पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी सरकार की कानून व्यवस्था पर सवाल खड़े किए हैं. नीचे देखिए मामले पर आई लोगों की प्रतिक्रियाएं.

BJP Corporator Family Murdered: महाराष्ट्र के बीजेपी कॉर्पोरेटर रविंद्र खरात की परिवार समेत गोली मारकर हत्या

Shivsena Corporators Workers Resign: महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव से पहले शिवसेना को बड़ा झटका! बीजेपी के साथ सीटों के बंटवारे से नाराज 300 कार्यकर्ताओं और 26 कॉर्पोरेटरों ने दिया पार्टी से इस्तीफा

Delhi Assembly Elections 2020 Date: नए साल में पहला चुनाव होगा दिल्ली विधानसभा का, इस साल झारखंड में इलेक्शन

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App