नई दिल्ली : गाजियाबाद के मुरादनगर इलाके में एक श्मशान घाट पर लेंटर गिर जाने की वजह से 25 लोगों की मौत मौत हो गई है. लेकिन अभी भी कई लोगों के मलबे में दबे होने की आशंका जताई जा रही है, जिसके लिए रेस्क्यू अभियान जारी है. इस घटना ने सभी का दिल दहला दिया है. वहीं पीएम मोदी और राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद भी इस दर्दनाक हादसे पर दुख जाता रहे हैं. साथ ही प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी पूरे मामले पर संज्ञान ले लिया है, जिसके चलते डीएम-एसएसपी को घटनास्थल पर जाने का आदेश जारी कर दिए गए हैं.

बता दें कि यह घटना उस समय की है जब किसी व्यक्ति की मौत पर उसके संबंधी और अन्य लोग अंतिम संस्कार करने श्मशान घाट पहुंचे थे. अचानक अंतिम संस्कार के बीच श्मशान स्थल का लेंटर भरभरा कर लोगों के ऊपर गिर गया ,जिसमें दबने से अबतक 23 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई है. हालांकि अभी भी कई लोगों के मलबे में दबे होने की आशंका है. जिनके लिए बचाव टीम लगातार काम कर रही है. लेकिन जबतक इस घटना की जानकारी पुलिस और राहत बचाव टीम तक पहुंची, तो कई लोग दम तोड़ चुके थे.

अब तक मलबे से निकाले गए घायल लोगों को स्थानीय अस्पतालों में इलाज के लिए भर्ती करवा दिया गया है. बता दें कि रविवार को पूरे दिन बारिश होने के कारण अंतिम संस्कार में शामिल हुए लोग बारिश से बचने के लिए शेड के नीचे काफी लोग खड़े हुए थे, जिसके बाद कुछ ही मिनटों में चारों तरफ हाहाकार मच गया. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, अंतिम संस्कार के दौरान गिरी इस श्मशान घाट की छत के नीचे 50 से ज्यादा लोगों के दबने की खबर है. वहीं अबतक इस हादसे में 25 लोग मृतक पाए गए हैं.

Farmer Protest : सरकार कृषि कानूनों को निरस्त नहीं करेगी : नरेंद्र सिंह तोमर

Farmer Protest latest update: दिल्ली से जुड़ने वाले प्रमुख मार्ग को बंद करने की दी चेतावनी, किसान आंदोलन हुआ उग्र

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर