पणजी. गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर का निधन हो गया है. वह 63 साल के थे. लंबे समय से पैंक्रियाटिक कैंसर से जूझ रहे पर्रिकर ने रविवार को अंतिम सांस ली. इसके बाद सियासी जगत में शोक की लहर दौड़ गई है. उनके गोवा स्थित आवास पर सुरक्षा बढ़ा दी गई है और घर पर नेताओं का जमावड़ा लगना शुरू हो गया है. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने ट्वीट कर उनके निधन पर शोक जताया था.पर्रिकर के लिए सोमवार सुबह 11 बजे केंद्रीय मंत्रिमंडल में शोक सभा आयोजित की जाएगी. शनिवार को उनका ब्लड प्रेशर काफी गिर गया था. पिछले 48 घंटे में उनकी तबीयत काफी बिगड़ गई थी.

इससे पहले शनिवार को बीजेपी विधायक और गोवा विधानसभा के डिप्टी स्पीकर माइकल लोबो ने कहा था कि मनोहर पर्रिकर बेहद बीमार हैं और उनके ठीक होने की संभावना बहुत कम है. बीजेपी विधायक ने कहा था कि सीएम की शनिवार रात तबीयत ज्यादा बिगड़ने के बाद आपात बैठक बुलाई गई. पर्रिकर के निधन से राज्य में बीजेपी के लिए सियासी संकट खड़ा हो गया है. बीजेपी ने राज्य मुख्यालय में विधायकों की बैठक बुलाई थी, जिसमें विकल्पों पर चर्चा की गई. अटकलें यह भी हैं कि कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिगंबर कामत भाजपा में शामिल हो सकते हैं और उन्हें मुख्यमंत्री बनाया जा सकता है.

माइकल लोबो ने यह भी कहा था कि कामत भाजपा में शामिल होने दिल्ली गए हैं. उनका इसके अलावा वहां कोई काम नहीं है. कामत का नाम इसलिए सामने आ रहा है क्योंकि गोवा के डाबोलिम एयरपोर्ट पर उन्होंने कहा कि वह दिल्ली निजी कारणों से जा रहे हैं. हालांकि कांग्रेस की ओर से आए एक बयान में कामत के बीजेपी में जाने की खबरों के अफवाह बताया गया. कामत साल 2000 में मनोहर पर्रिकर की अगुआई वाली भाजपा सरकार में बतौर मंत्री काम कर चुके हैं. बाद में वह इस्तीफा देकर कांग्रेस में चले गए थे. उस वक्त उन्होंने कहा था कि वह भाजपा में घुटन महसूस कर रहे थे.

फरवरी में भाजपा विधायक फ्रांसिस डिसूजा के निधन के बाद कांग्रेस ने शनिवार को राज्य में सरकार बनाने का दावा पेश किया था. राज्यपाल मृदुला सिन्हा को खत लिखकर कांग्रेस ने कहा कि पर्रिकर की अगुआई वाली गठबंधन सरकार अल्पमत में है और विधायकों की तादाद अभी और घट सकती है. उन्होंने कहा कि कांग्रेस सबसे बड़ी पार्टी है, लिहाजा उसे सरकार बनाने का मौका दिया जाए. गोवा की 40 सदस्यों वाली विधानसभा में फिलहाल 37 सदस्य हैं. फ्रांसिस डिसूजा के निधन और दो विधायकों के इस्तीफे के बाद विधानसभा में सदस्यों की संख्या गिर गई है.

Highlights

सोमवार शाम 4 बजे होगा मनोहर पर्रिकर का अंतिम संस्कार

गोवा के कैंपल में स्थित एसएजी ग्राउंड में सोमवार शाम 4 बजे मनोहर पर्रिकर के पार्थिव शरीर का अंतिम संस्कार किया जाएगा. इससे पहले सुबर 10.30 बजे तक गोवा बीजेपी कार्यालय में पर्रिकर के पार्थिव शरीर को रखा जाएगा. इसके बाद अंतिम दर्शन के लिए सुबह 11 बजे से शाम 4 बजे तक पणजी कला अकादमी ने उनका पार्थिव शरीर रखा जाएगा.

मनोहर पर्रिकर के निधन पर एक दिन का राष्ट्रीय शोक

केंद्र सरकार ने गोवा सीएम मनोहर पर्रिकर के निधन पर एक दिन के राष्ट्रीय शोक की घोषणा की है. राष्ट्रीय शोक के दौरान सभी राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों में राष्ट्रीय ध्वज आधा झुका रहेगा.

एक्टर अक्षय कुमार ने जताया शोक

गोवा के सीएम मनोहर पर्रिकर के निधन पर राजनेता ही नहीं बल्कि फिल्म अभिनेता भी संवेदना प्रकट कर रहे हैं. बॉलीवुड एक्टर अक्षय कुमार ने भी पर्रिकर के निधन पर शोक व्यक्त किया है. अक्षय कुमार ने कहा है कि मनोहर पर्रिकर एक अच्छे इंसान थे, उन्होंने कई बार उनसे मुलाकात की थी. अक्षय ने दुख की घड़ी में मनोहर पर्रिकर के परिवार के साथ संवेदना व्यक्त की है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पर्रिकर के निधन पर व्यक्त की संवेदना

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मनोहर पर्रिकर के निधन पर ट्वीट पर शोक व्यक्त किया है. पीएम मोदी ने कहा है कि मनोहर पर्रिकर आधुनिक गोवा के निर्माता थे. पर्रिकर एक सच्चे देशभक्त और सेवक थे. प्रधानमंत्री ने मनोहर पर्रिकर के बतौर रक्षा मंत्री के कार्यकाल को याद करते हुए कहा कि उनके कार्यकाल में भारत की सुरक्षा के लिए सरकार ने कई अहम कदम उठाए.

मनोहर पर्रिकर के निधन पर नितिन गडकरी ने व्यक्त किया शोक

गोवा सीएम मनोहर पर्रिकर के निधन पर केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने दुख व्यक्त किया है. नितिन गडकरी ने कहा कि परिवारजन से अलग हटकर वे मेरे करीबी दोस्त भी थे. आज वो मेरे साथ नहीं हैं, ये मेरे लिए दर्द से भरा है. मैं तुरंत गोवा के लिए निकल रहा हूं.

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने जताया शोक

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने भी उनके निधन पर शोक जताया. उन्होंने लिखा, मेरी संवेदननाएं मनोहर पर्रिकर के परिवार के साथ हैं. मैं उनसे सिर्फ एक बार मिली हूं, जब वह दो साल पहले मेरी मां को देखने अस्पताल आए थे. भगवान उनकी आत्मा को शांति दे.

अमित शाह ने जताया शोक

बीजेपी चीफ अमित शाह ने भी पर्रिकर के निधन पर शोक जताया. शाह ने लिखा, पर्रिकर का जाना बेहद दर्दभरा है. देश ने एक सच्चा देशभक्त खोया है, जिसने अपनी पूरी जिंदगी देश और विचारधारा के लिए नाम कर दी. पर्रिकर की लोगों के प्रति निष्ठा का कोई सानी नहीं.

राष्ट्रपति ने जताया शोक

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने ट्वीट कर उनके निधन पर शोक जताया. उन्होंने लिखा, मनोहर पर्रिकर के निधन से दुखी हूं. सार्वजनिक जीवन में ईमानदारी और समर्पण का एक प्रतीक थे. गोवा और भारत के लोगों के लिए उनकी सेवा को नहीं भुलाया जाएगा.

नहीं रहे गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर

गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर का 63 साल की उम्र में निधन हो गया है. वह पैंक्रियाटिक कैंसर से जूझ रहे थे. इसके बाद पूरे सियासी जगत में शोक की लहर दौड़ गई है. मनोहर पर्रिकर ने इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलोजी (IIT) से पढ़ाई की है और वह तीन बार गोवा के सीएम रह चुके हैं.

लंबे वक्त से बीमार थे मनोहर पर्रिकर

लंबे वक्त से कैंसर से जूझ रहे मनोहर पर्रिकर का अस्पताल में इलाज चल रहा है. शनिवार को अचानक उनका बीपी काफी बढ़ गया था. हालांकि डॉक्टरों का कहना है कि उनकी सेहत पर नजर बनी हुई है. मनोहर पर्रिकर कई बार विधानसभा में नाक में नली लगाए दिखाई दिए हैं.

सीएम के घर के बाहर सुरक्षा बढ़ी, नेताओं का लगा जमावड़ा

गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर पैंक्रियाटिक कैंसर से जूझ रहे हैं. उनकी तबीयत बेहद नाजुक है. इसके बाद उनके घर के बाहर सिक्योरिटी बढ़ा दी गई है. बीजेपी विधायक एलिना सलदनहा और स्पीकर प्रमोद सावंत सीएम के घर पहुंच चुके हैं. इसके अलावा केंद्रीय आयुष मंत्री श्रीपद नाईक भी उनके घर पहुंचे हैं.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App