नई दिल्ली. केरल से एक अजीबो गरीब खबर सामने आई है जहां 65 साल के एक बुजुर्ग की सड़क किनारे तड़पकर जान चली गई और लोग उसे नशे में धुत समझते रहे. यह दर्दनाक घटना राज्‍य के मलप्‍पुरम जिले की बताई जा रही है. दरअसल 12 मार्च को जिले के वासुप्‍पडी इलाके में सुबह 11 बजे से ही चेलप्‍पन नाम के एक बुजुर्ग सड़क किनारे तड़प रहे थे, लेकिन आस पास चल रहे लोगों ने शाम 5 बजे पुलिस को इसकी सूचना दी थी. ऐसे में उन्‍हें तत्‍काल कुट्टीपुरम के तालुक अस्‍पताल में भर्ती कराया गया, लेकिन डॉक्‍टरों ने उन्‍हें मृत घोषित कर दिया. चेलप्पन जब तड़प रहे थे तो लोग उन्हें नशे में धुत समझ रहे थे. यही वजह है उन्हें समय पर नहीं बचाया जा सका.

चेलप्‍पन मूल रूप से कोल्‍लम के रहने वाले थे और पिछले 22 सालों से कुट्टीपुरम में रह रहे थे. वह यहां एक सेल्समैन के तौर पर काम कर रहे थे. वहां को निवासी अजीराज ने बताया कि स्‍थानीय लोग चेलप्‍पन को अच्‍छी तरह से जानते थे लेकिन जब उन्होंने चेलप्पन को तड़पते हुए देखा तो शराबी समझकर छोड़ दिया. अजीराज ने कहा कि ‘समीप के मंदिर में उत्‍सव चल रहा था जो 12 मार्च को ही समाप्‍त हुआ था। लोगों को लगा कि चेलप्‍पन बहुत थकने के कारण सड़क किनारे सो गए हैं. जब तक लोगों को लगा कि कुछ गड़बड़ है, तब तक बहुत देर हो चुकी थी.’ पुलिस का कहना है कि पोस्टमार्टम के बाद मालूम होगा कि बुजुर्ग की मौत की असली वजह क्या थी.

अभिनेता से नेता बने कमल हासन बोले- जीएसटी को कूड़ेदान में फेंक देना चाहिए

महेश भट्ट की फिल्म सारांश ने बचाया अनुपम खेर का डूबता करियर, ऐसे कमाई बेशुमार शोहरत

जाह्नवी कपूर ने बुजुर्गों के बीच मनाया 21वां जन्मदिन, चेहरे की उदासी ने बयां किया मां श्रीदेवी के साथ न होने का दर्द

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App