कोलकाता. पश्चिम बंगाल में चक्रवाती अम्फान तूफान ने मचाई तबाही के बाद सूबे की सीएम ममता बनर्जी ने केंद्र सरकार के रेल मंत्रालय से मांग की है कि आने वाली 26 मई तक राज्य में श्रामिक स्पेशल ट्रेनें नहीं भेजी जाएं. प्रदेश में तूफान से प्रभावित जिलों में राहत और मरम्मत का काम चल रहा है जिस वजह से ट्रेनों के संचालन की इजाजत नहीं दी जा सकती है.

गौरतलब है कि हाल ही में पश्चिम बंगाल के मुख्य सचिव ने रेलवे बोर्ड को पत्र लिखकर रहा था कि जिला प्रशासन बचाव और राहत के कार्यों में लगा है. इस वजह से अगले कुछ समय तक स्पेशल ट्रेनों को रिसीव पर पाना संभव नहीं है. ऐसे में मंत्रालय से अनुरोध है कि 26 मई तक राज्य में कोई भी ट्रेन न भेजी जाए.

अम्फान की बंगाल में तबाही के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रभावित इलाकों का हवाई दौरा किया. इस दौरान उन्होंने केंद्र की ओर से 1 हजार करोड़ रुपए की मदद का ऐलान किया. हालांकि, सीएम ममता बनर्जी उनकी सहायता राशि से खुश नजर नहीं आईं. सीएम ममता ने केंद्र की 1 हजार करोड़ की सहयता को लेकर कहा कि उनके राज्य में 1 लाख करोड़ रुपए का नुकसान हुआ है. ममता ने कहा कि राज्य को इस हालात से उभारने के लिए 1 हजार करोड़ काफी कम राशि है.

बता दें कि बुधवार को अम्फान तूफान ने वेस्ट बंगाल और ओडिशा में दस्तक दी. इस दौरान कई इलाकों में करीब 6 घंटे तूफान ने तेज बारिश और हवा के साथ चारों ओर तबाही मचाई. बताया जा रहा है कि तूफान की रफ्तार 160 से 180 किलोमीटर प्रति घंटा रही थी. इस तूफान में सिर्फ पश्चिम बंगाल में 80 लोगों की मौत हो गई.

Sonu Sood Active On Twitter To Help Migrants: बिहार और यूपी के प्रवासियों के लिए रील नहीं रियल लाइफ हीरो बने सोनू सूद, बसों से भेजा लोगों को घर

Pakistan Plane Crash: पाकिस्तान में बड़ा विमान हादसा, घरों पर गिरा यात्रियों से भरा प्लेन, पीएम मोदी ने जताया दुख

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर