Wednesday, August 17, 2022

महाराष्ट्र सियासी संकट : मतोश्री में दो घंटे चली एनसीपी नेताओं और सीएम ठाकरे की बैठक

मुंबई, महाराष्ट्र पर आए सियासी संकट के बीच सीएम उद्धव ठाकरे के निजी निवास पर एनसीपी नेताओं और सीएम ठाकरे की मीटिंग करीब 2 घंटे चली. जहां जानकारी के अनुसार इस मीटिंग में शरद पवार , अजीत पवार , प्रफुल्ल पटेल भी मौजूद रहे. मातोश्री में एनसीपी नेताओं और उद्धव ठाकरे के बीच चली बैठक में महाराष्ट्र के सियासी संकट पर मंथन किया गया.

शिवसैनिकों का समर्थन

महाराष्ट्र के सियासी संकट के बीच एकनाथ शिंदे से लेकर उद्धव ठाकरे तक दोनों ओर शक्ति प्रदर्शन जारी है. जहां शिंदे गुट इस समय असम के गुवाहाटी में अपना डेरा बनाए हुए है वहीं सीएम उद्धव ठाकरे के निजी आवास मातोश्री के बाहर भी कई शिवसैनिकों ने गाजे बाजे के साथ डेरा जमा दिया है. जहां हजारों की संख्या में शिवसैनिक उद्धव ठाकरे के घर के बार नज़र आ रहे हैं. ये शिवसैनिक बसों में भरकर उनके घर के सामने सड़क पर उद्धव सरकार को अपना समर्थन दिखा रहे हैं.

शिवसैनिकों के हिंसक प्रदर्शन की आशंका

मुंबई पुलिस के अनुसार शिवसेना के विधायकों द्वारा उद्धव ठाकरे के खिलाफ बगावत करने से मुंबई में शिवसैनिकों के हिंसक प्रतिक्रिया करने की आशंका है। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि मुंबई शिवसेना का गढ़ है और राज्य की राजधानी भी है। इसलिए पुलिस किसी भी अप्रिय घटना से बचने के लिए पूरा एहतियात बरत रही है। बता दें कि इससे पहले जब शिवसेना में छगन भुजबल और नारायण राणे जैसे नेताओं ने बगावत की थी। उस समय, शिवसेना कार्यकर्ताओं का काफी हिंसक प्रदर्शन देखने को मिला था।

मातोश्री और शिवसेना भवन की सुरक्षा बढ़ाई गई

मुंबई पुलिस ने बांद्रा में स्थित ठाकरे परिवार के निजी घर मातोश्री और दादर में स्थित पार्टी कार्यालय शिवसेना भवन समेत कई अन्य महत्वपूर्ण स्थानों की सुरक्षा बढ़ा दी है। गौरतलब है कि बगावत से नाराज शिवसेना समर्थकों ने गुरूवार को माहिम के बागी विधायक सदा सर्वंकर की तस्वीर वाले एक बैनर पर कालिख लगा दिया था और उस पर गद्दार लिख दिया। बता दें कि सर्वंकर इस वक्त गुवाहाटी में एकनाथ शिंदे के साथ है।

India Presidential Election: जानिए राष्ट्रपति चुनाव से जुड़ी ये 5 जरुरी बातें

Latest news