नई दिल्ली. लॉकडाउन से ठीक पहले मध्य प्रदेश सीएम की कुर्सी पर विराजमान हुए शिवराज सिंह चौहान पूर्व सीएम कमलनाथ की कांग्रेस के निशाने पर हैं. यहां तक की ट्विटर पर #Panautihatao_MPbachao भी ट्रेंडिग में हैं. ज्योतिरादित्य सिंधिया का साथ मिलने के बाद एमपी में सरकार बनाने वाले शिवराज सिंह चौहान पर कांग्रेस ने कई गंभीर आरोप लगाए हैं जिनमें 60 करोड़ का आटा स्कैम शामिल है. कांग्रेस ने आटा घोटाले में जांच की मांग भी की है.

गौरतलब है कि शिवराज सिंह चौहान पर कांग्रेस का आरोप है कि जब पूरा देश कोरोना महामारी के संकट से जूझ रहा था उस समय शिवराज सिंह चौहान सरकार बनाने में लगे थे. शिवराज सिंह चौहान ने अपने सत्ता स्वार्थ के लिए रातों रात सीएम बन गए और बिना मंत्रिमंडल के सरकार चलाने लगे. समय से सतर्क न होने की वजह से राज्य की राजधानी भोपाल, इंदौर जैसे बड़े शहरों में कोरोना वायरस तेजी से फैला जिसकी चपेट में आकर काफी लोगों की मौत भी हो गई.

कांग्रेस का आरोप है कि संकटकाल में बिना कैबिनेट सरकार बनाने वाले सीएम शिवराज सिंह चौहान के पास कोरोना से लड़ने के लिए कोई भी प्लान नहीं था. विपक्ष के लगातार हमले के बाद शिवराज सिंह चौहान ने कैबिनेट का विस्तार भी किया लेकिन उसमें भी सिर्फ 5 लोग ही शामिल किए.

कांग्रेस का आरोप है कि शिवराज सरकार के आते ही प्रदेश की हालत खस्ता हो गई. डॉक्टरों और पुलिस पर लगातार हमले हुए, सफाई कर्मियों को पीटा गया, खाने के राशन में कुताई बरती गई. लोगों तक जो गेंहू काफी कम मात्रा में पहुंचाया गया. वहीं कांग्रेस का आरोप ये भी है कि जबसे शिवराज ने सत्ता संभाली है, प्रदेश में बीजेपी की पिछली सरकार की तरह बलात्कार के मामले सामने आने शुरू हो गए हैं.

Sonia Gandhi on BJP: कोरोना से लड़ने की बजाय बीजेपी फैला रही है नफरत का वायरस, सोनिया गांधी का भाजपा पर हमला

Madhya Pradesh Corona: मध्य प्रदेश में कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर सोशल मीडिया पर शिवराज सरकार के खिलाफ फिर फूटा लोगों का गुस्सा, ट्रेंड करने लगा- शिवराज लाए कोरोना

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App