नई दिल्ली/ कई राज्यों में लॉकडाउन होने के बावजूद कोरोना अपने पैर पसारता जा रहा है. लॉकडाउन के बीच भी कोरोना थमने का नाम ही नहीं ले रहा है. कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच लॉकडाउन की आशंका पर देश की राजधानी दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि राजधानी में अभी लॉकडाउन नहीं लगेगा, लेकिन कुछ नए प्रतिबंध लगाए जा सकते है. बता दें कि राजधानी दिल्ली में बीते 24 घंटे में कोरोना के 8521 नए केस सामने आए हैं, जबकि 39 लोगों ने अपनी जान गंवाई है.

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आगे कहा कि राजधानी दिल्ली में अभी 7-10 दिन का कोरोना वैक्सीन स्टॉक उपलब्ध है. हमें कोरोना वैक्सीन को लेकर उम्र की सीमा हटाने और वैक्सीनेशन की रफ्तार तेज करने की जरूरत हैं. वहीं एक्सपर्ट्स का कहना है कि इस बार राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस से संक्रमित के बीते कई रिकॉर्ड टूटेंगे क्योंकि दिल्ली की पीक अप्रैल के आखिरी हफ्ते में आने का अनुमान लगाया जा रहा है. तब तक दिल्ली में नए केस 15 से 18 हजार तक पहुंचने की बात कही जा रही है. मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि यदि हमारे पास कोरोना वैक्सीन की पर्याप्त डोज हो और उम्र की सीमा हटा दी जाए तो राजधानी के सभी लोगों को 2-3 महीने में वैक्सीन लगाई जा सकती है.

देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए नाइट थे बाद सभी स्कूल, कॉलेज को बंद कर दिया गया है. दिल्ली आपदा प्रबंधन अथॉरिटी (डीडीएमए) ने इससे पहले 6 अप्रैल 2021 के आदेश में रात को 10 बजे से सुबह 5 बजे तक नाइट कर्फ्यू लगाने का आदेश जारी कर दिया था और जल्द ही दिल्ली में कुछ नई पाबंदियों का ऐलान भी कर सकती है. नई पाबंदियों में दिल्ली मेट्रो और डीटीसी बसों की क्षमता में 50 फीसदी यात्री और सरकारी दफ्तरों में 50 परसेंट कर्मचारियों को काम करने की अनुमति शामिल हो सकती है.

गौरतलब है कि दिल्ली में एक दिन में आए कोरोना वायरस के मामलों की दूसरी बड़ी संख्या है. इससे पहले बीते साल 11 नवंबर 2020 को 8593 नए केस आए थे.

Bihar Police Killed in Bengal: अपराधियों को पकड़ने बंगाल गए बिहार पुलिस के जवान की बदमाशों ने पीट पीटकर हत्या की

West Bengal Election 2021: टीएमसी के रणनीतिकार प्रशांत किशोर का ऑडियो लीक, कहा- एंटी इंकम्बेंसी स्टेट का डर, मोदी पॉपुलर हैं…

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर