श्रीनगर. आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिद्दीन ने एक भयानक वीडियो शेयर की है, जिसमें एक 17 साल के कथित इन्फॉर्मर को गोलियों से छलनी दिखाया गया है. बीते कुछ वर्षों में यह पहली बार है जब आतंकी संगठन ने इस तरह नृशंस हत्या की जिम्मेदारी ली है.

मृतक की पहचान नदीम मंजूर से तौर पर हुई है, जो दक्षिण कश्मीर के शोपियां स्थित सफानगरी गांव का रहने वाला है. उसे गुरुवार को आतंकवादियों ने उसके घर से अगवा कर लिया था. एक अॉडियो मैसेज में हिजबुल के अॉपरेशन कमांडर रियाज नाइकू ने हत्या की जिम्मेदारी लेते हुए कहा कि वह सेना को आतंकवादियों की जानकारियां देता था और बाकी इन्फॉर्मर्स के साथ भी एेसा ही होगा.

आतंकवादियों ने मंजूर पर दो आतंकियों इदरीस अहमद और आमिर अमीन की जानकारी सेना को देने का आरोप लगाया, जो 6 नवंबर को शोपियां से सफानगरी गांव में मारे गए थे. नाइकू ने यह भी कहा कि मंजूर ने यह माना कि उसने सेना को लालच के लिए जानकारी दी थी लेकिन उसे कोई पैसा तक नहीं दिया गया. उसने कहा, ”हम किसी को मारना नहीं चाहते, लेकिन वे (इन्फॉर्मर्स) हमें मजबूर कर रहे हैं.” गौरतलब है कि इससे पहले भी आतंकवादी कश्मीर में सेना को सूचना देने वालों की हत्या करते रहे हैं. लेकिन यह पहली बार है जब उन्होंने नृशंस हत्या का वीडियो जारी किया है.

Ashish Pandey Gun Case: पूर्व बीएसपी एमपी का बेटा आशीष पांडे बोला- होटल में लड़की ने की थीं अश्लील हरकतें, मुझे गलत तरीके से फंसाया गया

BJP Leader Anil Parihar Shot Dead: जम्मू-कश्मीर बीजेपी के प्रदेश सचिव अनिल परिहार और उनके भाई की गोली मारकर हत्या, इलाके में बवाल