Tuesday, July 5, 2022

कानपुर हिंसा: बाबा बिरयानी के मालिक मुख़्तार बाबा पर क्राउड फंडिंग का आरोप, हुए गिरफ्तार

कानपुर। भारतीय जनता पार्टी की निलंबित प्रवक्ता नूपुर शर्मा द्वारा पैगंबर मुहम्मद पर आपत्तिजनक टिप्पणी के बाद उत्तर प्रदेश के कानपुर में बेकनगज थाना क्षेत्र में तीन जून शुक्रवार को जुम्मे की नमाज के बाद भयंकर हिंसा हुई थी, इस हिंसा का मुख्य आरोपी जफर हयात हाशमी से पूछताछ में कई ऐसे नाम सामने आए थे जिन पर क्राउड फंडिग का आरोप लगा था, इसके बाद एसआईटी की टीम ने दो बार जफर समेत अन्य चारों आरोपियों को पुलिस रिमांड में लेकर पूछताछ की थी, एसआईटी टीम को पूछताछ में कई अहम सबूत मिले हैं जो फंडिंग को लेकर संबंधित थे, इसके बाद पुलिस ने प्रेस नोट जारी करते हुए उनके नाम का खुलासा किया. इसी क्रम में क्राउड फंडिंग के मामले में बाबा बिरयानी के मालिक मुख्तार बाबा को अब गिरफ्तार कर लिया गया है.

मुख्य आरोपी ने लिया नाम

मुख्य आरोपी जफर से पूछताछ में एक और आरोपी का नाम सामने आया है जिसने क्राउड फंडिंग की थी, शहर के नामी बिल्डर में शुमार मोहम्मद वशी और मुख़्तार बाबा एसआईटी और पुलिस के रडार पर थे वहीं आज बुधवार पुलिस ने फंडिंग के आरोप में फरार चल रहे मुख्तार बाबा को आखिरकार गिरफ्तार कर लिया.

कई सारे नाम कतार में

ज्वाइंट पुलिस कमिश्नर आनंद प्रकाश तिवारी ने गिरफ्तारी की पुष्टि करते हुए बताया कि फिलहाल कई सारे ऐसे नाम आए हैं, जिनसे पूछताछ की जानी है. इसी के तहत भीड़ की फंडिंग करने के लिए मुख्तार बाबा का नाम सामने आया था, जिसे हिरासत में लेकर फिलहाल पूछताछ की जा रही है. इस समय वह पुलिस कस्टडी में है और फंडिग को लेकर उससे कई सवाल भी पूछे जा रहे हैं.

विदेशों तक पहुंची आग

बता दें, नूपुर शर्मा के बयान के बाद आग केवल भारत तक ही नहीं रही. बल्कि कई खाड़ी देशों ने इसका विरोध भी किया था. कई देशों ने भारत के उत्पादों का बहिष्कार तक किया था और सुपर मार्किट में भारत के लिए कड़े स्लोगन वाले पोस्टर्स के साथ तस्वीरें भी वायरल हुई थीं. बहरहाल नूपुर शर्मा को भाजपा ने उनके बयान के लिए पार्टी से सस्पेंड भी कर दिया था.

India Presidential Election: जानिए राष्ट्रपति चुनाव से जुड़ी ये 5 जरुरी बातें

Latest news

Related news

<1-- taboola end -->