रांचीः भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो यानी एसीबी की टीम ने तोपचांची प्रखंड के जेई पियूष राणा को 12 हजार की रिश्वत लेते रंगे हाथों शुक्रवार को गिरफ्तार किया. जेई पियूष राणा को सोमनाथ नामक व्यक्ति से प्रखंड क्षेत्र में हुए घाट निर्णाण की फाइनल एमबी फाइल भरने के एवज में रिश्वत लेते गिरफ्तार किया गया. जिसके बाद एसीबी की टीम ने पंचायत और सचिवालय सहित प्रखंड के कार्यलय में इस घाट निर्माण योजना के फाइलों की जांच की गई. 

मिली जानकारी के मुताबिक, नैरो पंचायत के दयाबांस पहाड़ के पास सोमनाथ नामक व्यक्ति ने 1.53 लाख रुपए की लाग ते एक घाट का निर्माण किया था. घाट के निर्माण का कार्य पूरा होने के बाद करीब 45 हजार की राशि का भुगतान होना बाकी था. जिसके बाद भुगतान पूरा करने के लिए और घाट के निर्णाम संबंधी पुस्तिका भरने के एवज में इंजिनीयर राणा ने सोमनाथ से 12 हजार रिश्वत की मांग कर डाली.

सोमनाथ ने रिश्वत मांगे जाने की शिकायत एसीबी से की और शिकायत के आधार पर राणा को रंगे हाथों पकड़ने का प्लान बनाया गया. रिश्वत की रकम लेने के लिए इंजीनियर राणा ने सोमनाथ को तोपचांची में पास एक होटल के पास मिलने के लिए बुलाया. और उस जगह पर एसीबी पहले ही सादे कपड़ों में मौजूद थी. जैसे ही पियूष ने सोमनाथ से रिश्वत के पैसे लिए तभी मौके पर मौजूद एसीबी टीम ने पियूष को रंगे हाथों धर दबोचा.

 

जब पोस्टमार्टम टेबल पर हिलने लगा मुर्दा और अस्पताल में मच गया हाहाकार

सुप्रीम कोर्ट ने सशर्त इच्छा मृत्यु को दी मंजूरी लेकिन क्या होती लिविंग विल, जानिए

INX मीडिया केस: मुंबई में कार्ति चिदंबरम और इंद्राणी मुखर्जी को आमने-सामने बिठाकर पूछताछ कर सकती है CBI

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App