बेंगलुरुः पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या की साजिश में पकड़े गए कथित हिंदू युवा सेना के नेता के.टी. नवीन कुमार को लेकर कई चौंकाने वाले खुलासे हुए हैं. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, केस की जांच के दौरान खुलासा हुआ है कि गौरी लंकेश की हत्या में कुमार की भूमिका से प्रभावित होकर उसे मैसूर के एक नामी लेखक की हत्या की सुपारी दी गई थी. नवीन कुमार पर गौरी लंकेश के हत्यारों की मदद करने का आरोप है. पुलिस नवीन कुमार से पूछताछ कर रही है.

नवीन को लेकर जांच टीम ने खुलासा किया कि गौरी लंकेश की हत्या के बाद उसे मैसूर के नामी लेखक और तर्कवादी के.एस. भगवान की हत्या करने का काम सौंपा गया था. के.एस. भगवान अपनी लेखनी के जरिए हिंदू धार्मिक मान्यताओं पर अक्सर सवाल उठाते रहे हैं. भगवान की हत्या के लिए वह एक अन्य आरोपी के साथ मिलकर हथियार खरीदने वाला था. वह अपने नापाक मंसूबों में कामयाब होता कि उससे पहले 2 मार्च को नवीन एसआईटी के हत्थे चढ़ गया. सूत्रों की मानें तो नवीन को गिरफ्तार करने में अगर एक हफ्ते की भी देरी हो जाती तो वह अपने अगले टारगेट को मारने में सफल हो जाता. भगवान पर हमले की आशंका के चलते उनकी सुरक्षा बढ़ा दी गई है.

गौरतलब है कि पिछले साल 5 सितंबर को कन्नड़ पत्रकार गौरी लंकेश की उनके घर के बाहर गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. हमलावरों ने वारदात को अंजाम देने से पहले तीन बार उनके घर की रेकी की थी. गौरी की हत्या के बाद वामपंथी संगठनों ने सड़कों पर उतरकर प्रदर्शन किया था. जिसके बाद केस की जांच के लिए एसआईटी का गठन किया गया. एसआईटी ने नवीन को बेंगलुरु स्थित एक बस अड्डे से पकड़ा. नवीन के पास से 15 कारतूस बरामद हुए थे. सीसीटीवी में नवीन गौरी के घर के पास चक्कर लगाते हुए दिखाई दे रहा है. नवीन ने टीम को बताया था कि गौरी की हत्या के लिए उसने यूपी से कारतूस मंगवाए थे. हर कारतूस के एवज में उसने एक हजार रुपये दिए थे.

गौरी लंकेश हत्याकांड: कर्नाटक के गृह मंत्री का दावा, जल्दी ही गिरफ्त में होंगे हत्यारे

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App