नई दिल्ली. दिल्ली की जेएनयू में हॉस्टल फीस बढ़ाने को लेकर पिछले दो हफ्तों से चल रहा छात्रों का विरोध प्रदर्शन सोमवार को उग्र हो गया जिसके बाद पुलिस और हजारों छात्रों के बीच भिड़ंत हो गई. माहौल को सामान्य करने के लिए 600 जवानों को तैनात किया गया है. इस बीच खबर है कि जेनएयू के शिक्षक संघ JNUTA ने भी छात्रों के प्रदर्शन का समर्थन करते हुए यूनिवर्सिटी के वीसी से इस्तीफे की मांग की है.

शिक्षक संघ ने जेएनयू के कैंपस में मीटिंग आयोजित करते हुए कहा कि वे छात्रों के शांतिपूर्ण प्रदर्शन के खिलाफ पुलिस की बर्बरता की निंदा करने का संकल्प लिया. इस घटना में काफी संख्या में छात्र घायल हुए हैं. शिक्षकों की मांग है कि वीसी के कहने पर छात्रों के खिलाफ यह कार्रवाई की गई इसलिए उन्हें अपना इस्तीफा देना चाहिए.

शिक्षक संघ ने कहा कि यूनिवर्सिटी के वीसी छात्रों से उनके मुद्दे पर कोई पर बातचीत नहीं करना चाहते थे जिसकी वजह से पुलिस ने यह कार्रवाई की. शिक्षक संघ ने आगे कहा कि यह यूनिवर्सिटी की जिम्मेदारी है कि यहां आने वाले सभी छात्रों उचित दरों पर रहने और खाने की सुविधा दी जाए.

JNU Protest Live News Updates: जेएनयू में हॉस्टल फीस बढ़ोतरी के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे स्टू़डेंट्स और पुलिस की जबरदस्त भिड़ंत, जानिए क्या है छात्रसंघ की मांगें और पूरा मामला

Kanhaiya Kumar Coment On Delhi Lawyers Police Row: दिल्ली में वकील-पुलिस की भिड़ंत पर बोले कन्हैया कुमार- जब मुझ पर वकीलों ने हमला किया था तो हंस रहे थे पुलिस वाले, पर बचाया भी पुलिस ने था