रांची. झारखंड हाई कोर्ट ने शुक्रवार को आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव की जमानत याचिका खारिज कर दी और उन्हें 30 अगस्त तक सरेंडर करने को कहा है. लालू यादव चारा घोटाले से जुड़े मामलों में सजा काट रहे हैं. बिहार के पूर्व सीएम इलाज कराने के लिए 27 अगस्त तक बेल पर थे. उन्होंने जमानत तीन महीने बढ़ाए जाने की अर्जी दी थी.

आरजेडी सुप्रीमो फिलहाल मुंबई के एशियन हार्ट इंस्टिट्यूट में हैं. उनके वकील प्रभात कुमार ने बताया कि लालू का इलाज रांची के राजेंद्र इंस्टिट्यूट अॉफ मेडिकल साइंसेज (RIMS) में चलेगा. वह मुंबई से रांची लौटेंगे.जून में आरजेडी चीफ को चारा घोटाले से जुड़े 4 मामलों में सजा सुनाई गई थी. बीमारी को देखते हुए 29 जून को झारखंड हाई कोर्ट ने उनकी अस्थायी जमानत 6 हफ्ते बढ़ाकर 14 अगस्त तक कर दी थी. इसके बाद यह अर्जी 27 अगस्त तक बढ़ा दी गई.

बिहार के पूर्व सीएम 23 दिसंबर से बिरसा मुंडा जेल में कैद हैं. उन्हें जनवरी व मार्च 2018 में दो अन्य मामलों में दोषी करार दिया गया और 14 साल की जेल की सजा दी गई. वह साल 2013 में चारा घोटाला मामले में पहली बार दोषी करार दिए गए और उन्हें पांच साल की जेल की सजा सुनाई गई. .ये सभी मामले पशुपालन विभाग के लिए विभिन्न जिलों में सरकारी खजाने से अवैध रूप से पैसे निकालने से संबंधित हैं. उस वक्त राज्य के मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव थे.पटना उच्च न्यायालय के निर्देश पर जांच को केंद्रीय जांच ब्यूरो को सौंपा गया था.

आरजेडी नेता तेजप्रताप यादव का बड़ा आरोप, मेरी हत्या कराना चाहते हैं बीजेपी-आरएसएस

RJD नेता तेजस्वी यादव बोले- डरपोक मुख्यमंत्री हैं नीतीश कुमार, बिहार नहीं चला पा रहे

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App