Jharkhand

झारखंड. ख़बर झारखंड के लातेहार जिले से है जहाँ. आदिवासी पर्व करमा पूजन के बाद डाली का विसर्जन के दौरान बड़ा हादसा हो गया. देखते ही देखते पर्व की ख़ुशी मातम में बदल गई. दरअसल, पूजा के बाद मूर्ति विसर्जन करने गई 10 लड़कियों में से 7 लड़कियां तालाब में डूब गई जिसमें सातों की मौत हो गई.
बताया जा रहा है कि मृतक सभी सात लड़कियों में से छह लड़कियां एक ही परिवार से थीं. हादसे के बाद से परिवार में मातम पसरा हुआ है. वहीँ, घटना पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत प्रदेश मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन और पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास ने शोक व्यक्त किया है. प्रधानमंत्री ने ट्वीट कर परिवार को संवेदना दी उन्होंने कहा- “ईश्वर इन शोक संतप्त परिवारों को इस दुःख को सहने की शक्ति दे.

एक दुसरे को बचाने के प्रयास में डूबती गई सातों लड़कियां

हादसे पर अधिकारियों का कहना है कि गांव की 10 लड़कियों का एक समूह ‘करम डाली’ के साथ तालाब में विसर्जन के लिए गया था, तभी उनमें से दो लड़कियां डूबने लगीं और मदद के लिए चिल्लाने लगीं. इसी दौरान एक दूसरे को बचाने के प्रयास में सातों लड़कियां एक-एक करके गहरे तालाब में डूबती चली गईं. वहीं टोली की बाकी तीनों लड़कियां भी इसी प्रयास में घायल हो गईं, जिसके बाद से तीनों का इलाज़ चल रहा है. बता दें कि तालाब में डूबने से जान गंवाने वाली सभी लड़कियों की उम्र 12 से 20 साल की बतायी जा रही है. बहरहाल जिला उपायुक्त अबू इमरान ने घटना की जांच के आदेश दिए हैं.

 

यह भी पढ़ें :

Shilpa Shetty Separation : शिल्पा शेट्टी लेंगी पति राज कुंद्रा से तलाक, इशारों में कही बड़ी बात

Femina Miss India Grand Manika Shyokand बनीं हरियाणा की गुडविल एंबेसडर

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर