Saturday, December 10, 2022
गुजरात नतीजे (182/182)  हिमाचल नतीजे (68/68) 
BJP - 156 BJP - 25
AAP - 05 CONG - 40 
CONG - 17  AAP - 00
OTH - 04  OTH - 03 
IND vs BAN 3rd ODI

IND vs BAN: तीन मैचौं की वनडे सीरीज का आखिरी मुकाबला, जानिए...

0
नई दिल्ली। टीम इंडिया इस समय बांग्लादेश दौरे पर है। जहां पर तीन मैचों की वनडे श्रृंखला खेली जा रही है। इस सीरीज का...
Pitch Report

IND vs BAN: वनडे सीरीज का आखिरी मुकाबला आज, जानिए चटगांव की वेदर-पिच...

0
नई दिल्ली। भारत और बांग्लादेश के बीच तीन मैचों की वनडे सीरीज का आखिरी मुकाबला आज खेला जाएगा। ये मैच चटगांव के जबुर अहमद...
आम आदमी पार्टी को मिलेगा राष्ट्रीय पार्टी होने का दर्जा

राष्ट्रीय पार्टी बनने पर मुफ्त बंगले के साथ-साथ यह सुविधाएं मिलेंगी आम आदमी पार्टी...

0
नई दिल्ली। गुजरात में करारी हार झेलने के बाद शोक मना रही आम आदमी पार्टी के लिए खुशी का क्षण आ गया है, इस...
Team India

IND vs BAN: आज लाज बचाने उतरेगी टीम इंडिया, जानिए कैसा रहेगा संभावित...

0
नई दिल्ली। भारत और बांग्लादेश के बीच तीन मैचों की वनडे सीरीज का आखिरी मुकाबला आज खेला जाएगा। भारत पहले ही 2 मुकाबला हार...
(AAP से कांग्रेस में वापस लौटने वाले अली मेहदी)

दिल्ली एमसीडी: AAP में जाने वाले 2 पार्षद वापस कांग्रेस में क्यों लौटे? ये...

0
दिल्ली एमसीडी: नई दिल्ली। दिल्ली नगर निगम चुनाव परिणाम आने के बाद अभी भी राष्ट्रीय राजधानी में हाई वोल्टेज ड्रामा जारी है। आम आदमी पार्टी...

24 की उम्र में Bisleri से जुड़ीं थी जयंती.. अब कारोबार में दिलचस्पी नहीं, जानें अब क्या करती हैं ?

नई दिल्ली. आज भी जब बोतलबंद पानी का नाम लिया जाता है तो सबसे पहले जुबां पर बिसलेरी का नाम ही आता है, लेकिन अब ये कंपनी बिकने वाली है. दरअसल, कंपनी के मालिक रमेश चौहान ने इसे बेचने का फैसला लिया है, इसके पीछे की वजह ये है कि उनकी बेटी जयंती चौहान की दिलचस्पी बिसलेरी के कारोबार में नहीं है. इस वजह से रमेश चौहान बिसलेरी के लिए खरीदार ढूंढ रहे हैं, बता दें रमेश चौहान की इकलौती बेटी जयंती चौहान की उम्र 37 साल है और ये बिसलेरी कंपनी की वाइस चेयरपर्सन हैं. लेकिन खबरों की मानें तो उन्हें इस कारोबार में कोई ख़ास दिलचस्पी नहीं है.

जयंती चौहान का बचपन दिल्ली, मुंबई और न्यूयॉर्क जैसे शहरों में बीता है. जयंती ने स्कूल की पढ़ाई पूरी करने के बाद उन्होंने प्रोडक्ट डेवलपमेंट की पढ़ाई करने के लिए फैशन इंस्टीट्यूट ऑफ डिजाइन एंड मर्चेंडाइजिंग में एडमिशन लिया था ये इंस्टीट्यूट लॉस एंजिल्स में स्थित है. जयंती ने लंदन कॉलेज ऑफ फैशन से फैशन स्टाइलिंग और फोटोग्राफी की भी पढ़ाई की है, जयंती ने कई प्रमुख फैशन हाउस में इंटर्नशिप भी की है. उन्होंने लंदन विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ ओरिएंटल एंड अफ्रीकन स्टडीज से डिग्री भी ली है.

बिसलेरी से कब जुड़ी ?

जयंती ने 24 साल की उम्र में अपने पिता की देखरेख करते हुए बिसलेरी का कारोबार संभाला था, इससे पहले उन्होंने दिल्ली ऑफिस के कामकाज को संभाला. साल 2011 में जयंती ने मुंबई ऑफिस के भी काम को संभाला था, उन्होंने लंबे समय तक ये जिम्मा संभाला था लेकिन अब कंपनी के कारोबार में उनकी दिलचस्पी नहीं रह गई है. रमेश चौहान अपनी खराब स्वास्थ्य और बेटी जयंती की कारोबार में घटती रूचि को देखते हुए कंपनी को बेचना चाहते हैं. फिलहाल जयंती बिसलेरी कंपनी से जुड़ी हैं, लेकिन फैशन क्षेत्र में उनकी गहरी रुचि हैं और वो ज्यादातर समय लंदन में ही रहती हैं. इसलिए अब रमेश चौहान ने बिसलेरी का सौदा करने का फैसला लिया है.

 

केजरीवाल को मारना चाहती है बीजेपी, मनोज तिवारी ने रची है साजिश- मनीष सिसोदिया

राजस्थान में सियासी तूफान लाएगा बड़ी तबाही, पायलट पर गहलोत की ओछी टिप्पणी से नाराज है आलाकमान

Latest news