नई दिल्ली. देश की राजधानी दिल्ली के जंतर-मंतर पर धर्म विशेष पर भड़काऊ नारे और टिप्पणी करने पर बीजेपी नेता अश्वनी उपाध्याय समेत छह लोगों हिरासत में लिया गया है।

आरोपियों में  विनोद शर्मा,दीपक सिंह,दीपक,विनीत क्रांति,प्रीत सिंह शामिल हैं। प्रीत सिंह सेव इंडिया फाउंडेशन का निदेशक है। इसी के बैनर तले भारत छोड़ो आंदोलन नाम का कार्यक्रम जंतर-मंतर पर किया गया था। DCP दीपक यादव के मुताबिक, अश्वनी उपाध्याय समेत 5 लोगों को दिल्ली पुलिस कस्टडी में लेकर पूछताछ कर रही है। जानकारी के अनुसार, इन सभी से चाणक्‍यपुरी थाने में पूछताछ की जा रही है।

मामले में आम आदमी पार्टी के विधायक अमानतुल्ला खान ने भी बीते सोमवार को अश्विनी उपाध्याय के खिलाफ पुलिस में शिकायत की। अश्विनी उपाध्याय रात 3 बजे के करीब कनॉट प्लेस पुलिस स्टेशन पहुंचे। उन्होंने कहा है कि नारे लगाने वालों को नहीं जानता हूं। वीडियो की जांच की जाए और सही पाए जाने पर दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई हो।

नौ अगस्त की देर रात को ही दिल्ली पुलिस ने उन्हें कनॉट प्लेस थाने में बुलाया था, जिसके बाद से उनसे पूछताछ चल रही है। अगर इस मामले में उनकी भूमिका संदिग्ध पाई जाती है और पुलिस उन्हें इस मामले में आरोपी बनाती है तो उन्हें आज पटियाला कोर्ट में पेश किया जा सकता है।

मालूम हो कि रविवार को जंतर-मंतर पर भारत जोड़ो आंदोलन के बाद सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो गया था, जिसमें धर्म विशेष के खिलाफ आपत्तिजनक नारेबाजी की गई थी। इस वीडियो के वायरल होने के बाद कांग्रेस नेता शशि थरूर ने इसके खिलाफ आवाज उठाई थी। सोशल मीडिया पर अश्विनी उपाध्याय को गिरफ्तार करने की मांग भी की जा रही थी।

Marburg Virus: दक्षिण अफ्रीका में मिला एक नया जानलेवा वायरस, चमगादड़ों से इंसानों में आया

UNSC Meeting: समुद्री सुरक्षा पर खुली बहस के लिए संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में अध्यक्षता कर रहे पीएम मोदी ने दिया SAGAR विजन, जानें भाषण की 10 महत्वपूर्ण बातें

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर