श्रीनगर. स्वतंत्रता दिवस से पहले जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर में हैरतअंगेज मामला सामने आया है. लाल चौक पर तिरंगा फहराने की कोशिश कर रहे एक समूह को लोगों ने पीट दिया. झंडा फहराने की कोशिश कर रहे लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. जिन लोगों को अरेस्ट किया गया है, वे जम्मू-कश्मीर के लोग नहीं हैं.इस मामले में एक शख्स को गिरफ्तार कर लिया गया है.

‘टाइम्स नाउ की रिपोर्ट के मुताबिक जैसे ही समूह के लोगों ने क्लॉक टावर पर झंडा लगाने की कोशिश की, स्थानीय लोगों ने इसका विरोध किया और इसके बाद प्रदर्शन शुरू हो गया. पिछले साल नेशनल कॉन्फ्रेंस के चीफ फारूक अब्दुल्ला ने केंद्र सरकार को लाल चौक पर तिरंगा फहराने की चुनौती दी थी, जिसके बाद शिवसेना की जम्मू-कश्मीर ईकाई ने एक टीम को वहां तिरंगा फहराने भेजा था.

अब्दुल्ला ने कहा था, ”वे (केंद्र और बीजेपी) पीओके में तिरंगा फहराने की बात करते हैं. मैंने उनसे श्रीनगर के लाल चौक पर तिरंगा फहराने को कहा. वे इतना भी नहीं कर सकते और पीओके की बात करते हैं”.अब्दुल्ला की चुनौती को मंजूर कर कुछ युवाओं ने दिसंबर 2017 में लाल चौक पर तिरंगा फहराने के बाद भारत समर्थक नारे लगाए. बीजेपी के रविंदर रैना ने इस घटना को सभी राष्ट्रविरोधियों के लिए आंखें खोलने जैसा बताया था.

देखें वीडियो:

JNU छात्र नेता शेहला रशीद का आरोप- हिंदूवादी माफिया डॉन रवि पुजारी ने दी जान से मारने की धमकी

PM नरेंद्र मोदी ने जताई उम्मीद, कहा- इमरान खान की सरकार पाकिस्तान को आतंक और हिंसा से आजादी दिलाने की दिशा में काम करेगी