नई दिल्ली.Jamia JMI University Protest Over CAA Highlights: नरेंद्र मोदी सरकार के नागरिकता संशोधन अधिनियम को लेकर रविवार को दिल्ली के जामिया नगर समेत कई आसपास के इलाकों में हिंसा और अगजनी हुई. रविवार शाम प्रदर्शनकारियों ने कई बसों और गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया. प्रदर्शनकारियों में जामिया यूनिवर्सिटी के छात्र और स्थानीय लोग भी शामिल हैं. दिल्ली पुलिस के मुताबिक, 6 से ज्यादा पुलिसकर्मी घायल हैं. दिल्ली पुलिस ने सभी हिरासत में लिए गए सभी छात्रों को छोड़ दिया है. छात्रों को छोड़ने के बाद दिल्ली पुलिस हेडक्वाटर के बाहर प्रदर्शन सोमवार तड़के सुबह समाप्त हो गया है. 

एनआरसी और नागरिकता अधिनियम का विरोध कर रहे प्रदर्शनकारियों ने रविवार दोपहर के समय भी जमकर तोड़फोड़ की. पुलिस ने हालात काबू करने के लिए लाठीचार्ज किया, आंसू गैस के गोले छोड़े. इस मामले को देखते हुए जामिया प्रशासन ने कहा कि रविवार को हो रहे प्रदर्शन में यूनिवर्सिटी के छात्र शामिल नहीं है. जामिया प्रदर्शन में 11 छात्रों को गंभीर चोट आईं हैं, वहीं 24 छात्र को हल्की चोटें आईं हैं. हिंसा के बाद जामिया इलाके में भारी पुलिस तैनात कर दिया गया है. फिलहाल हालात काबू में हैं.

Jamia JMI University Protest Over CAA Highlights:

दोपहर 1.20 बजे- दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने राजधानी के मौजूदा हालात पर चिंता व्यक्त की है. सीएम अरविंद केजरीवाल ने गृहमंत्री अमित शाह से मीटिंग के लिए समय मांगा है. 

दोपहर 1 बजे- वाइस चांसलर नजमा अख्तर ने दो छात्रों की मृत्यु की खबर को सिरे से खारिज कर दिया है. उन्होंने कहा कि हिंसा में किसी छात्र की मौत नहीं हुई है, लेकिन कल हुई झड़प में करीब 200 लोग घायल हुए हैं. इनमें से ज्यादा जामिया यूनिवर्सिटी के छात्र हैं.

दोपहर 12.55 बजे- नजमा अख्तर ने कहा कि कल यूनिवर्सिटी कैंपस में पुलिस के घुसने वाले मामले पर FIR दर्ज कराई जाएगी. हम इस मामले की उच्च जांच की मांग करते हैं. 

दोपहर 12.51 बजे- जामिया यूनिवर्सिटी की वीसी नजमा अख्तर ने मीडिया से बातचीत की. उन्होंने कहा कि यूनिवर्सिटी में बहुत सारी संपत्ति की क्षति हुई है, इस सब की भरपाई कैसे होगी? इससे भावनात्मक नुकसान भी हुआ है. कल की घटना दुर्भाग्यपूर्ण थी. मैं सभी से किसी भी तरह की अफवाहों पर विश्वास न करने की अपील भी करती हूं.

दोपहर 12.10 बजे- सैयद घयोरुल हसन रिज़वी ने कहा कि विरोध की आवश्यकता नहीं है क्योंकि नागरिकता संशोधन कानून भारत के मुसलमानों के खिलाफ नहीं है. यदि वे सभी विरोध कर रहे हैं, तो इसे शांतिपूर्वक किया जाना चाहिए. आगे कहा कि अगर आयोग को नोटिस जारी करने की आवश्यकता महसूस होती है, तो यह किया जाएगा.

दोपहर 12 बजे-  जामिया मिलिया इस्लामिया और एएमयू में विरोध पर राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष, सैयद घयोरुल हसन रिज़वी ने प्रदर्शनकारियों से इस तरह के विरोध प्रदर्शन नहीं की अपील की है. उन्होंने कहा कि कुछ संयम दिखाएं और स्थिति को शांति से नियंत्रित करें.

सुबह 10.38 बजे- जामिया नगर इलाके में कल विरोध प्रदर्शन के दौरान हिंसा के संबंध में पुलिस द्वारा संपत्ति के नुकसान और दंगों पर दो FIR दर्ज की गई हैं. 

सुबह 9.25 बजे- जामिया मीलिया यूनिवर्सिटी के छात्रों ने कैंपस को छोड़ना शुरू कर दिया है. कल हुए विरोध प्रदर्शन के बाद जामिया मीलिया यूनिवर्सिटी को 5 जनवरी तक बंद कर दिया गया है.

सुबह 9.10 बजे- जामिया यूनिवर्सिटी का एक छात्र अपनी शर्ट उतार कर यूनिवर्सिटी के गेट के सामने बैठ गया है. छात्र की मांग है कि कल हुए मामले को लेकर दिल्ली पुलिस के खिलाफ एक्शन लिया जाए. 

सुबह 8.20 बजे- कल  हुए विरोध प्रदर्शन के चलते दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने गाइडलाइन जारी की. इसके मुताबिक सरिता विहार से आने कालिंदी कुंज की ओर आने वाली रोड नंबर – 13A को बंद कर दिया है.

सुबह 7.52 बजे- दिल्ली मेट्रो के सभी स्टेशन के एंट्री और एग्जिट गेट को खोल दिया गया है. सभी स्टेशन्स पर सेवाएं सामन्य कर दी  गई हैं. इससे पहले कई सुखदेव विहार, प्रगति मैदान, जामिया यूनिवर्सिटी समेत कई मेट्रो स्टेशन पर सेवाएं रोक दी गई थीं.

सुबह 5.50 बजे- दिल्ली पुलिस के मुताबिक कल हुई हिंसा और पथराव में दक्षिण पूर्व जिला डीसीपी, अतिरिक्त डीसीपी (दक्षिण), 2 सहायक पुलिस आयुक्त, 5 स्टेशन हाउस अधिकारी और निरीक्षक सहित कई पुलिसकर्मी घायल हो गए हैं.

सुबह 5.45 बजे- दिल्ली पुलिस पीआरओ एमएस रंधावा का कहना है कि सभी हिरासत में लिए गए छात्रों को कालकाजी और न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी से रिहा कर दिया गया है.  

रात 1.50 बजे- दिल्ली अल्पसंख्यक आयोग ने एक आदेश जारी किया है. इसके मुताबिक कालकाजी एसएचओ को आदेश दिया गया है कि जामिया यूनिवर्सटी के घायल छात्रों को रिहा किया जाए और बिना देरी  किए उन्हें इलाज के  लिए भर्ती किया जाए.

रात 11.40 बजे- जामिया यूनिवर्सिटी की वीसी  नजमा अख्तर ने आगे कहा कि पुलिस लाइब्रेरी में बैठे प्रदर्शनकारियों और छात्रों के बीच अंतर नहीं कर सकी. कई छात्र और कर्मचारी घायल हो गए हैं. मुझे अपने छात्रों की शांति और सुरक्षा की उम्मीद है.

रात 11.20 बजे- जामिया यूनिवर्सिटी की वाइस चांसलर नजमा अख्तर का कहना है कि
जामिया के छात्रों ने रविवार को विरोध का आह्वान नहीं किया. जामिया के पास की कॉलोनियों के लोग जुलैना की ओर मार्च कर रहे थे, जहां पर उनकी पुलिस से भिड़ गए और यूनिवर्सिटी कैंपस का गेट तोड़कर अंदर घुस गए.

 

रात 9.45 बजे– दिल्ली पुलिस का कहना है कि जामिया यूनिवर्सिटी में प्रदर्शन के दौरान मौत की खबर अफवाह है. दिल्ली पुलिस पीआरओ एमएस रंधावा ने कहा है दिल्ली की जनता ऐसी अफवाहों पर ध्यान ना दे. दिल्ली पुलिस हालात पर नजर बनाए हुए है.

शाम 9. 30 बजे– जामिया यूनिवर्सिटी में छात्रों के साथ हुई मारपीट से गुस्साए छात्रों ने दिल्ली पुलिस मुख्यालय के बाहर जमकर प्रदर्शन किया. इस दौरान जेएनयू छात्रों ने भी प्रदर्शन में साथ दिया. 

शाम 9 बजे-  नागरिकता संशोधन विधेयक को लेकर दिल्ली की जामिया यूनिवर्सिटी के साथ-साथ अलीगढ़ यूनिवर्सिटी के बाहर छात्रों और पुलिस के बीच भिड़ंत हो गई है. मौके पर पुलिस तैनात है. 

शाम 8 बजे- बीबीसी जर्नलिस्ट बुशरा शेख ने दिल्ली पुलिस पर आरोप लगाया है कि वे कवरेज के लिए पहुंची थी लेकिन सुरक्षाबलों ने उनसे उनका मोबाइल छीन लिया. एक पुलिसकर्मी ने  उनके बाल भी खींचे. 

शाम 7. 40 बजे– जामिया यूनिवर्सिटी के चीफ प्रॉक्टर वसीम अहमद खान ने दिल्ली पुलिस पर आरोप लगाए हैं. वसीम अहमद खान ने कहा कि पुलिस बिना किसी अनुमति लिए यूनिवर्सिटी कैंपस में दाखिल हुई. हमारे स्टाफ और छात्रों के साथ मारपीट की गई. 

शाम 7. 15 बजे– दिल्ली में हो रहे प्रदर्शन को लेकर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रदर्शनकारियों से शांति की अपील की है. सीएम केजरीवाल ने कहा कि किसी भी तरह की हिंसा नहीं सही जाएगी. विरोध शांतिपूर्ण ढंग से होना चाहिए. 

शाम 7 बजे–  नागरिकता संशोधन अधिनियम के खिलाफ हिंसक प्रदर्शन के बाद दिल्ली पुलिस ने जामिया यूनिवर्सिटी के बाहर से कई छात्रों को हिरासत में लिया. पुलिस यूनिवर्सिटी कैंपस के अंदर दाखिल हो चुकी है.  

Jamia University Students Protest Over CAB: नागरिकता संशोधन विधेयक के विरोध में सड़कों पर जामिया यूनिवर्सिटी के छात्र, दिल्ली पुलिस का लाठीचार्ज, छोड़े आंसू गैस के गोले

Ranjeet Savarkar on Rahul Savarkar Controversy: राहुल गांधी के वीर सावरकर का नाम लेने पर भड़के पोते रंजीत सावरकर, कहा- पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष के खिलाफ कार्रवाई करे सरकार