बिहार। समस्तीपुर रेल मंडल के पूर्णिया कोर्ट स्टेशन के पास खड़े भाप इंजन को बेचने का असली मास्टर माइंड सीनियर सेक्शन इंजीनियर राजीव रंजन झा है. रेलवे कोर्ट में सरेंडर कर रिमांड पर लिए गए हेल्पर सुशील कुमार यादव ने पूछताछ में यह जानकारी दी. आरपीएफ द्वारा भगोड़ा घोषित करने और संपत्ति की कुर्की का विज्ञापन पोस्ट करने के बाद उसने रेलवे कोर्ट खगड़िया में आत्मसमर्पण कर दिया। आरपीएफ ने हेल्पर को तीन दिन के रिमांड पर लिया था। पूछताछ में उसने बताया कि सारा काम सीनियर सेक्शन इंजीनियर के कहने पर हुआ है. सीनियर सेक्शन इंजीनियर व ठेकेदार पंकज कुमार धंधनिया अभी फरार है। दोनों के खिलाफ कुर्की की कार्रवाई तेज कर दी गई है।

फरार आरोपी पंकज ढनढानिया के गिरफ्तार भाई नीरज की पत्नी गंगा ने कुर्की का विज्ञापन देख कर रेलवे कोर्ट खगड़िया में आवेदन दिया है. बताया गया है कि आरपीएफ ने गलत विज्ञापन डाले थे। इस घर की मालकिन वीणा देवी हैं, जिसमें नीरज का परिवार रहता है। इसी परिसर में उनके पति नीरज की कंपनी श्रीशंकर स्टील का सामान रहता है। इसमें फरार पंकज का कोई सामान नहीं है। पंकज की फर्म श्री भवानी स्टील के नाम से है। नीरज को पूर्व में आरपीएफ ने गिरफ्तार कर गलत तरीके से इंजन बेचने के आरोप में जेल भेजा था।

क्या है मामला

ज्ञात हो कि दिसंबर 2021 में समस्तीपुर रेल मंडल के पूर्णिया कोर्ट स्टेशन के पास वर्षों से खड़े भाप के इंजन को सीनियर सेक्शन इंजीनियर ने कबाड़ माफिया को बेच दिया था। लोको डीजल शेड के संभागीय यांत्रिक अभियंता (डीएमई) के फर्जी कार्यालय आदेश को दिखाकर यह काम किया गया. इसका पता नहीं चला, इसके लिए डीजल शेड चौकी पर कार्यरत आरपीएफ निरीक्षक की मिलीभगत से शेड के आगमन पंजिका पर पिकअप वैन के कबाड़ में प्रवेश की प्रविष्टि की गई, लेकिन ऑन-ड्यूटी आरक्षक संगीता कुमारी ने शिकायत की थी।

जांच के बाद इंजन बेचने का भंडाफोड़ हुआ। पूर्णिया कोर्ट स्टेशन के आरपीएफ इंस्पेक्टर एमएम रहमान के बयान पर मंडल के बनमनखी चौकी पर प्राथमिकी दर्ज की गई है। इसमें रेलवे इंजीनियर राजीव रंजन झा, हेल्पर सुशील यादव समेत सात लोगों को आरोपी बनाया गया था. जांच के क्रम में कबाड़ ठेकेदार नीरज धंधनिया, मुंशी राम सुभाष शर्मा और ट्रक चालक शिशुपाल सिंह को गिरफ्तार किया गया है।

य़ह भी पढ़े:

एलपीजी: आम लोगों का फिर बिगड़ा बजट, घरेलू रसोई गैस सिलेंडर 50 रूपये हुआ महंगा

 

SHARE

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर