मुंबईः एचडीएफसी बैंक के वाइस प्रेसिडेंट सिद्धार्थ संघवी बुधवार से लापता होने के मामले में आज पुलिस को संघवी का मृत शरीर बरामद हुआ है इस मामले में पुलिस ने सरफराज शेख नामक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है जिसमें पूछताछ के दौरान संघवी की हत्या की बात कबूल ली है. हालांकि आरोपी की गिरफ्तारी के बाद तक पुलिस को सिद्धार्थ की लाश बरामद नहीं थी लेकिन आज  जांच कर रहे पुलिस अधिकारियों ने संघवी के मृत शरीर को खोज लिया . पुलिस के मुताबिक मुताबिक इस हाइप्रोफाइल मामले में एक से ज्यादा व्यक्तियों का हाथ हो सकता है.

संघवी के लापता होने के संबंध में मुंबई पुलिस ने एक 20 वर्षीय व्यक्ति को गिरफ्तार किया है जिसने बैंकर की हत्या करने की बात को कबूल किया है. सूत्रों के मुताबिक आरोपी ने कहा कि उसे हत्या के लिए सुपारी दी गई थी जिसके बाद उसने पुलिस को यह भी बताया कि कैसे उसने हत्या के बाद संघवी के शरीर को उनकी कार से हटा दिया. आरोपी की पहचान मजदूर के रूप में हुई है जिसे बैंक की हत्या करने के लिए किराए पर हायर किया गया था.

पुलिस विभाग के सूत्रों के मुताबिक इस मामले में गिरफ्तार आरोपी चार लोगों में से एक है. पुलिस सूत्रों ने कहा कि संघवी को हाल में मिले प्रमोशन से नाराज हुए उनके एक सहयोगी ने उनकी हत्या के लिए एक व्यक्ति को उनकी हत्या करने के लिए किराए पर लिया था. जांच कर रही पुलिस टीम ने गिरफ्तार किए गए आरोपी को आगे की जांच के लिए एनएम जोशी मार्ग थाने को भेज दिया है.

एचडीएफसी बैंक के उपाध्यक्ष सिद्धार्थ संघवी बुधवार 5 सितंबर से मुंबई कमला मिल्स स्थित अपने ऑफिस से रहस्यमयी परिस्थितियों में लापता हो गए थे. जब मामले की पुलिस जांच शुरू हुई तब उनकी कार कॉपर खैराने इलाके में गुरुवार 6 सितंबर को खड़ी मिली थी. एचडीएफसी बैंक के उपाध्यक्ष सिद्धार्थ संघवी की बरामद कार पर पुलिस को खून के धब्बे मिले हैं जिसके सैंपल जांच के लिए लैब में भेज दिए गए हैं.

एचडीएफसी बैंक के वाइस प्रेसिडेंट सिद्धार्थ संघवी बुधवार को रात 10 बजे तक घर नहीं लौटे थे जिसके बाद उनकी पत्नी ने पुलिस थाने जाकर उनकी गुमशुदगी का मामला दर्ज कराया था. जिसके बाद जांच में जुटी पुलिस को उनके कमला मिल्स स्थित ऑफिस के फुटेज जांचने के बाद इस बात की जानकारी मिली की जिसमें संघवी के बुधवार शाम 7.30 बजे ऑफिस से बाहर निकलने की बात सामने आई है.

हाइफ्रोफाइल मामले को देखते हुए इस मामले की जांच में एनएम जोशी मार्ग पुलिस के अलावा नवी मुंबई पुलिस और क्राइम ब्रांच जुटी हुई है. जिसके बाद संघवी के लापता होने के बाद पूरे मुंबई में वायरलैस मैसेज भेज कर अलर्ट जारी किया था जिसके बाद ही नवी मुंबई पुलिस को सिद्धार्थ की कार कॉपर खैरान इलाके में बरामद की गई थी.

मध्य प्रदेश में बेखौफ रेत माफिया, फोरेस्ट अफसर की ट्रैक्टर से कुचलकर हत्या

हिमाचल प्रदेश में बीएसपी नेता को पहले बेरहमी से पीटा और फिर गाड़ी से कुचलकर मार डाला