सोनीपत. जहां एक तरफ देश दिन-प्रतिदिन तरक्की की नई मिसालें कायम कर रहा वहीं देश के कुछ हिस्सों में लोग पुरानी सोच को बदलना एक पाप समझ बैठे हैं. ऐसे में ये लोग अपनी दकियानूसी सोच को वहां रहने वाले दूसरे लोगों पर भी डालने की पूरी कोशिश कर रहे हैं. दरअसल हरियाणा के सोनीपत के एक गांव में एक साल पहले हुई पंचायत ने लड़कियों के मोबाइल और जीन्स के इस्तेमाल पर रोक लगाई थी. जिसके बाद अब गांव के सरपंच ने बताया है कि मोबाइल और जीन्स पर रोक लगने के बाद से गांव की की स्थिति पहले से बेहतर हुई है.

गौरतलब है कि सोनीपत जिले के ईसाइपुर खेड़ी गांव की पंचायत ने लड़कियों के जीन्स पहनने और मोबाइल इस्तेमाल पर बैन लगाया हुआ है. ग्राम पंचायत ने यह फैसला करीब एक साल पहले उस दौरान लगाया था जब गांव में लड़कियों के प्रेमी के साथ भागने के कई मामले सामने आए थे. जिसके बाद बीते दिन गांव के सरपंच ने कहा है कि गांव की लड़कियों पर मोबाइल और जीन्स की रोक लगाने से गांव की स्थिति बेहतर है और ऐसे मामलों पर लगाम लगी है.

गांव के सरपंच ने कहा कि हमारे गांव में लड़कियां जीन्स नहीं पहन सकती हैं. इसके साथ उनके मोबाइल इस्तेमाल पर भी पूरी तरह रोक है क्योंकि वे मोबाइल का गलत इस्तेमाल करती थीं. इसके साथ ही सरपंच ने कहा कि उनके कहने का मतलब ये नहीं है कि गांव की लड़कियां बिगड़ गई हैं, उनका कहना बस इतना है कि गांव की लड़कियों को मोबाइल रास नहीं आता है. वहीं दूसरी तरफ गांव के शख्स का कहना है कि ‘यह पूरी तरह से गलत है, समस्या पुरुषों की मानसिकता में है, हम क्या पहनते हैं इसमें नहीं. कपड़ों से किसी के चरित्र की धारणा कैसे बनाई जा सकती है.

हरियाणा में चौटाला और मायावती ने मिलाया हाथ, बीएसपी और इनेलो का गठबंधन

कई राज्यों में फिर खाली हुए ATM, नोटबंदी जैसे हालातों पर RBI ने कहा- जल्द सामान्य होगी स्थिति

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App