गुड़गांवः हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर भी दिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल की राह पर चलेंगे. उऩ्होंने हरियाणा विधानसभा के मानसून सत्र के आखिरी दिन फैसला लिया कि राज्य में बिजली की दरें आधी कर दी जाएंगी. जिससे गरीबों के मौजूदा बिजली के बिल लगभग आधे हो जाएंगे. सरकार की मानें तो अब 200 यूनिट तक बिजली पर 4.50 रुपये से घटकर 2.50 रुपये प्रति यूनिट बिल आएगा. सरकार का कहना है कि 500 यूनिट की खपत करने वालों भी इससे काफी फायदा मिलेगा. बता दें कि बिजली की ये नई दरें 1 अक्टूबर से राज्य में लागू कर दी जाएंगी.

सरकार ने बिजली की दरों को कम करने का फैसला भले ही आज लिया हो लेकिन इस बात के कयास पिछले कई दिन से लगाए जा रहे थे कि सरकार बिजली की दरों में कटौती का ऐलान कर सकती है. गौरतलब है कि अगले साल बीजेपी शासित हरियाणा में विधानसभा चुनाव होने हैं. जिसको देखते हुए सरकार जनता को रिझाने में अभी से लग गई है. अपने इस फैसले पर सीएम का कहना है कि हमने वादा किया था कि बिजली के दामों को बढ़ने नहीं देंगे. 

बता दें कि दिल्ली के सीएम केजरीवाल ने भी बिजली के दरें आधी की हैं जिसके बाद अब हरियाणा में लोगों को आधी कीमत में बिजली मिलेगी. राज्य सरकार ने फैसला आज यानी हरियाणा विधानसभा के मानसून सत्र के आखिरी दिन लिया. बिजली की बदली हुई ये दरें एक अक्टूबर से राज्य में लागू कर दी जाएंगी. जिससे आम आदमी के सर के बोझ कम होगा.

यह भी पढ़ें- Robert Vadra Land Case FIR : सीएम मनोहर लाल खट्टर बोले- भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ते रहेंगे, भूपेंद्र सिंह हुड्डा का नरेंद्र मोदी सरकार पर वार

हरियाणा सरकार ने खोली तिजोरी, मेडल जीतने वाले विनेश फोगाट, बजरंग पुनिया और लक्ष्य शेरोन को करोड़ों का इनाम और नौकरी