अहमदाबादः पिछले कई दिनों से चल रहा पाटिदार नेता हार्दिक पटेल का अनिश्चितकालीन अनशन 12वें दिन भी जारी रहा. इस दौरान उनकी अगुवाई वाली पाटीदार अनामत आंंदोलन समिति (पीएएएस) ने घोषणा की कि अगले 24 घंटों में अगर गुजरात की भारतीय जनता पार्टी सरकार ने हार्दिक पटेल से बातचीत शुरू नहीं कि तो वह जल भी त्याग देंगे. गुजरात की राजधानी अहमदाबाद के बाहरी इलाके में स्थित हार्दिक पटेल क आवास पर पीएएएस के संयोजक मनोज पनारा ये बात कही.

मनोज पनारा ने कहा कि सरकार के प्रतिनिधियों को हार्दिक पटेल से मिलने अनशन स्थल पर आना चाहिए और उनसे बात करनी चाहिए. उन्होंने आगे बताया कि हार्दिक पटेल की तबीयन दिन पर दिन बिगड़ती जा रही है लेकिन सरकार ने इसके समाधान के लिए कोई इच्छा जाहिर नहीं की है. अगर सरकार ने 24 घंटों के अंदर बातचीत नहीं की तो हार्दिक पानी पीना भी छोड़ देंगे. उन्होंने कहा कि जहां पूरा राज्य हार्दिक को लेकर चिंतित है और उनके लिए प्रार्थनाएं कर रहा है लेकिन ऐसा लगता है कि सरकार को उनकी कोई परवाह ही नहीं है.

बता दें कि अपनी मांगों को लेकर पाटीदार नेता हार्दिक पटेल पिछले कई दिन से अपने आवास पर अनशन कर रहे हैं. इस दौरान ऐसी खबरें आईं कि उनकी तबीयत लगातार बिगड़ रही है. पाटीदार पार्टी के संयोजक मनोज पनारा का कहना है कि अगर सरकार ने 24 घंटे के अंदर बात नहीं की तो हार्दिक पानी पीना भी बंद कर देंगे. 

यह भी पढ़ें- अनशन के 11वें दिन 20 किलो घटा हार्दिक पटेल का वजन, कर रहे पाटीदार आरक्षण और किसानों की कर्जमाफी की मांग

CM ममता बनर्जी ने हार्दिक पटेल को भेजी राखी, क्या इसके पीछे 2019 लोकसभा चुनाव का गणित छुपा है?