अहमदाबादः गुजरात में पाटीदार आरक्षण आंदोलन के नेता हार्दिक पटेल को अहमदाबाद पुलिस की क्राइम ब्रांच ने हिरासत में लिया है. हार्दिक ने निकोल में किसानों के लिए एक दिन की भूख हड़ताल करने का ऐलान किया था लेकिन अन्य पाटीदार नेताओं के साथ निकोल जाने के लिए निकले हार्दिक को हिरासत में लिया गया है. हार्दिक पटेल ने मुख्यमंत्री विजय रुपानी के नाम शनिवार को एक खुला खत लिखा था जिसमें उन्होंने किसानों के लिए भूख हड़ताल करने का ऐलान किया था.

मामला आज सुबह का है जब शनिवार को किसानों के लिए एक दिन की भूख हड़ताल के लिए हार्दिक पटेल घर से निकलने वाले थे लेकिन उससे पहले ही क्राइम ब्रांच ने उनको अन्य नेताओं के साथ हिरासत में ले लिया. अपनी भूख हड़ताल से पहले हार्दिक पटेल ने अहमदाबाद नगर पालिका से और पुलिस कमिश्नर से इसकी इजाजत मांगी थी लेकिन उन्हें मंजूरी नहीं दी गई थी. अहमदाबाद नगर पालिका ने उस जगह को फ्री पार्किंग जोन घोषित कर दिया है जिस जगह पर हार्दिक पटेल ने अपना अनशन करने के लिए इजाजत मांगी थी. अपडेट…

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App