देहरादूनः पिछले साल हुई नोटबंदी के कारण परेशान चल रहे हल्द्वानी के ट्रांसपोर्टर प्रकाश पांडे की मंगलवार को देहरादून के मैक्स हॉस्पिटल में मौत हो गई. प्रकाश पांडे ने शनिवार को बीजेपी दफ्तर में होने वाले जनता दरबार कार्यक्रम में कृषि मंत्री सुबोध उनियाल के सामने जहर खा लिया था. उन्होंने जहर खाने से पहले सुबोध उनियाल से कहा था कि जीएसटी और नोटबंदी की वजह से उनके ट्रांसपोर्ट का कारोबार चौपट हो गया है. ट्रांसपोर्टर की मौत की खबर पर राज्य के सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने गहरा दुख जताया है.

बता दें कि शनिवार को प्रकाश पांडे ने बीजेपी के जनता दरबार में यह कहते हुए जहर खा लिया था कि वह पिछले साल से नोटबंदी से परेशान था वहीं जीएसटी ने परेशानी और ज्यादा बढ़ा दी थी. जिसके बाद उन्हें देहरादून के मैक्स अस्पताल में भर्ती कराया गया था. प्रकाश पांडे का कहना था कि जीएसटी और नोटबंदी के कारण उनको व्यापार में बहुत घाटा हुआ था. उनका आरोप था कि इस मामले में सरकार सेस मदद मांगने के बावजूद भी उन्हें कोई सहायता नहीं मिली.

प्रकाश पांडे के अस्पताल में भर्ती होने के बाद से ही सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत के निर्देशानुसार प्रकाश का मैक्स अस्पताल में विशेष ध्यान रखा जा रहा था. त्रिवेंद्र सिंह रावत ने प्रकाश की मौत पर गहरा दुख जताते हुए कहा कि उन्हें बचाने की हर संभव कोशिश की गई. बता दें कि त्रिवेंद्र सिंह रावत रविवार को प्रकाश पांडे के स्वास्थ्य का हालचाल लेने मैक्स अस्पताल भी पहुंचे थे.

यह भी पढ़ें- उत्तराखंड सरकार का फैसलाः त्रिवेंद्र सिंह रावत सरकार ने सरकारी दफ्तरों में मीडिया के प्रवेश पर लगाई रोक

दिल्ली: एक ही घर में पति, पत्नी और बेटी की मिली लाश

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App