जयपुर. राजस्थान में चल रहा गुर्जर आरक्षण आंदोलन के चौथे दिन राज्य के दूसरे भागों में भी फैल गया. इस आंदोलन का नेतृत्व कर रहे गुर्जर आरक्षण संघर्ष समिति के अध्यक्ष कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला अपने समर्थकों के साथ सवाई माधोपुर के मलराना डूंगर में दिल्ली-मुंबई रेलमार्ग पर डटे हुए हैं. जिससे इस रूट पर रेल आवागमन बाधित है. आंदोलनकारियों ने जयपुर-आगरा हाइवे समेत कई नेशनल और स्टेट हाइवे को जाम कर रखा है.

आंदोलन के तहत गुर्जरों ने सोमवार को सिकंदरा, दौसा और कोटा में बनास ब्रिज को जाम किया. राज्य के भरतपुर, करौली, सवाई माधोपुर और धौलपुर जिले खासे प्रभावित हुए हैं. साथ ही सोमवार को झुंझुनूं, सीकर और नागौर में भी आंदोलनकारियों ने कई जगह जाम लगाया. गुर्जर आंदोलन के तहत रविवार को हुई हिंसा में 5 पुलिसकर्मी घायल हो गए थे. प्रदर्शनकारियों ने पुलिस पर पत्थरबाजी और गोलीबारी की थी. जवाबी कार्रवाई में पुलिस ने हवाई फायरिंग और आंसू गैस के गोले छोड़ आंदोलनकारियों को खदेड़ा.

आंदोलन के हिंसक होने के बाद करौली, सवाई माधोपुर के मलराना-डूंगर और धौलपुर में धारा 144 लगा दी गई है. आंदोलन की वजह से रेलवे ने सोमवार को भी 18 ट्रेनें रद्द की और 21 ट्रेनों को डायवर्ट किया. वहीं मंगलवार को भी 15 ट्रेनें रद्द रहेंगी और 8 ट्रेनें परिवर्तित मार्ग से चलेंगी.

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आंदोलनकारियों को शांति रखने की अपील की है. उन्होंने रविवार को कहा था कि सरकार इस मामले में बातचीत के लिए तैयार है. साथ ही उन्होंने भाजपा पर भी आंदोलनकारियों को भड़काने का आरोप लगाया है.

गुर्जर आरक्षण आंदोलन का नेतृत्व कर रहे कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला ने राजस्थान में गुर्जर समाज से आने वाले विधायकों को विधानसभा में आवाज उठाने की बात कही है. उन्होंने कहा कि या ते विधायक विधानसभा में वे आवाज उठाएं या फिर आकर उनके साथ धरने पर बैठें. आपको बता दें कि राजस्थान के उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट भी गुर्जर समाज से ही ताल्लुक रखते हैं.

फिलहाल इस आंदोलन के खत्म होने की कोई संभावना नहीं लग रही है क्योंकि गुर्जरों ने पहले ही चेतावनी दी थी कि वे इस बार आरक्षण लेकर ही उठेंगे. वहीं दूसरी ओर राज्य सरकार की तरफ से इस मुद्दे पर कोई निर्णायक कदम अभी तक नहीं उठाया गया है.

Gurjar Leader Kirori Singh Bainsla Profile: जानिए कौन हैं गुर्जर आरक्षण आंदोलन के नेता कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला जिन्होंने दिल्ली-मुंबई रेलवे ट्रैक जाम कर दिया
Yogi Adityanath On Ram Mandir : यूपी विधानसभा में बोले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ- राम मंदिर पर सुप्रीम कोर्ट 24 घंटे में फैसला सुनाए

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App