गांधीनगर. गुजरात के सीएम विजय रूपाणी जल्द ही इस्तीफा दे सकते हैं. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, भाजपा हाईकमान 2019 के लोकसभा चुनावों से पहले राज्य सरकार में नए चेहरे लाने की तैयारी में हैं. रिपोर्ट की माने तो राज्य के डिप्टी सीएम नीतिन पटेल से भी इस्तीफा मांगा जा सकता है. वहीं खबर है कि सीएम रूपाणी गुजरात सरकार में नई कैबिनेट की गठन से पार्टी हाईकमान से नाराज हैं.

लोकल न्यूज वेबपोर्टल मेरा न्यूज के अनुसार, इस मामले में नाराज हुए विजय रूपाणी ने राज्य में आईएस और आईपीएस अधिकारियों के ट्रांस्फर रोक दिए हैं. इसके साथ ही काम की जरूरी फाइलें भी रोक दी गई हैं. वहीं रिपोर्ट की माने तो साल 2017 में गुजरात विधानसभा में आए नतीजों से भाजपा पार्टी हाईकमान संतुष्ट नहीं है. इसी वजह से वे पार्टी को लोकसभा चुनावों के लिए राज्य स्तर पर मजबूत करना चाहते हैं.

दरअसल 2017 में हुए विधानसभा चुनावों में भाजपा ने अपनी अधिकतर सीटें राज्य के सौराष्ट्र इलाके से खोई हैं. रिपोर्ट की माने तो अब ऐसे पार्टी हाईकमान आने वाले लोकसभा चुनावों में पार्टी की पर्फोमेंस सुधारने के लिए नया चेहरा तलाश रही है. दरअसल लोकसभा चुनावों में पार्टी सौराष्ट्र के लोगों को रिझाना चाहती है. गौरतलब है कि 2001 में गुजरात के सीएम केशुभाई पटेल के बाद अभी तक सौराष्ट्र प्रांत के किसी भी शख्स को गुजरात का सीएम बनने का मौका मिला है.

ऐसे में पार्टी लोकसभा चुनावों में ज्यादा से ज्यादा सीटें जीतना चाहती है. हालांकि अभी यह साफ नहीं हो पाया है कि सीएम विजय रूपाणी कब इस्तीफा दे सकते हैं. बता दें कि बीते विधानसभा चुनावों में भाजपा ने 182 सीटों में से 99 सीटें अपने नाम की थी, जबकि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के नेतत्व में कांग्रेस पार्टी ने गुजरात में 35 सालों बाद सबसे अधिक 80 सीटें जीती थीं.

गुजरात में विजय रुपाणी की दूसरी पारी का आगाज, जाने उनसे जुड़ी 10 बड़ी बातें

गुजरात कैबिनेट में दरार, सीएम विजय रुपाणी और डिप्टी सीएम नितिन पटेल में मंत्रालयों को लेकर मनमुटाव

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App