दुर्गः जनशताब्दी एक्सप्रेस को हाईजैक करने वाले उपेंद्र और उसके आठ सहयोगियों को छत्तीसगढ़ की एक लोअर कोर्ट ने आजीवन कारावास की सजा सुनाई है. कोर्ट ने विशेष अदालत ने रेलवे एक्ट के तहत गैंगस्टर उपेंद्र और उसके आठ साथियों को आजीवन कारावास की सजा और 9500 रुपये का जुर्माना भी लागाया है. इसके साथ ही इन सभी लोगों को स्पेशल कोर्ट ने 5 अलग-अलग धाराओं के तहत सश्रम कारावास की सजा सुनाई गई है. इसके साथ ही कोर्ट ने 9500. ट्रैन हाईजैक मामले में पुलिस ने कुल 11 आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट पेश की थी. जिसमें से एक आरोपी नाबालिग है जिसपर किशोर अदालत में मामला विचाराधीन है जबकि दो आरोपी अभी तक पकड़ में नहीं आ सके हैं.

मामला 6 फरवरी 2013 का है जब छत्तीसगढ़ के दुर्ग में गैंगस्टर उपेंद्र ने अपने आठ गुर्गों के साथ मिलकर जनशताब्दी एक्सप्रेस को हाईजैक कर लिया था. ट्रैन को हाईजैक करने के बाद इन लोगों ने लगभग 2 किलोमीटर तक पूरी ट्रेन के यात्रियों सहित ड्राइवर को बंधक बनाकर रखा हुआ था. अगवा करने के बाद ये लोग ट्रेन को दूसरे स्टेशन पर ले जाने के लिए ड्राइवर पर लगातार दबाव बना रहे थे. पूरी ट्रेन को हाईजैक करने की घटना देश में पहली बार हुई थी. जिसके कारण पूरे देश में ट्रेन की सुरक्षा व्यवस्था को लेकर सवाल खड़े हो गए थे.

गैंगस्टर उपेंद्र एक अपहरण के चर्चित मामले में पुलिस की गिरफ्त में था. जिसको छुड़ाने के लिए उपेंद्र के बेटे प्रीतम सिंह ने ये हाईजैक की साजिश रची थी. जिसमें 6 फरवरी 2013 को एक सुनवाई के लिए उपेंद्र को बिलासपुर सेंट्रल जेल से दुर्ग कोर्ट के लिए लाया गया था. जब पुलिस उपेंद्र को सुनवाई से लेकर वापस लौट रही थी तब उपेंद्र के बेटे प्रीतम ने अपने आठ साथियों के साथ मिलकर ट्रेन को हाईजैक कर लिया था.

ट्रैन हाईजैक करने के बाद पुलिस की कस्टडी से उपेंद्र को छुड़वाकर उसके सभी साथी फरार हो गए लेकिन कुछ महीने बाद ही उपेंद्र और उसके बेटे प्रीतम सहित आठ आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया था. जिसमें अदालत ने ट्रैन हाईजैक की वारदात के दौरान ट्रेन के ड्राइवर को बंदूक दिखाकर धमकाने और गैंगस्टर उपेंद्र के बेटे प्रीतम सिंह को 10 साल की सजा सुनाई है. ट्रैन को हाईजैक करने वालो में गैंगस्टर उपेंद्र सिहं, प्रीतम सिंह, शंकर, अनिल सिहं, राजकुमार, पिंकू, सुरेश, को सजा सुनाई गई है.

 

मदरसे में 11 साल की बच्ची से रेप का आरोप, लोगों ने मदरसा सील करने की मांग

पत्नी से रेप का आरोपी हुआ रिहा, कोर्ट ने इस्लामिक कानून का दिया हवाला

गाजियाबाद: 16 लाख की फिरौती के लिए छात्र को मार डाला, दोस्तों पर हत्या का आरोप

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App