महाराष्ट्र. आज़ादी के 75 सालों बाद भी देश में महिला सुरक्षा की स्थिति दयनीय बनी हुई है. देश में महिलाएं आज भी सुरक्षित नहीं है. हर सरकार इस वादे और नारे के साथ सत्ता में आती है कि वो इस स्थिति को बदल देंगे, लेकिन इस स्थिति में अब तक कोई सुधार देखने को नहीं मिला है. ताज़ा मामला महाराष्ट्र के थाने जिले का है जहाँ एक 15 वर्षीय नाबालिग के साथ 33 लोगों ने आठ महीने तक दुष्कर्म किया.

26 आरोपियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार

खबर महाराष्ट्र के थाने जिले की है, जहाँ एक 15 वर्षीय लड़की के साथ 8 महीने तक दुष्कर्म किया गया. यह सिलसिला जनवरी में शुरू हुआ जब पीड़िता के प्रेमी ने उसके साथ पहली बार दुष्कर्म किया और इसकी वीडियो बना ली. इस वीडियो के आधार पर वह पीड़िता को ब्लैकमेल करता रहा और उसके साथ कई बार दुष्कर्म किया. इतना ही नहीं, उसके दोस्तों और परिचितों ने भी उसके साथ कम से कम चार से पांच मौकों पर जिले के डोंबिवली, बदलापुर, मुरबाड और रबाले सहित विभिन्न स्थानों पर सामूहिक बलात्कार किया.

इस मामले पर सीनियर अधिकारी ने बताया कि पीड़िता की शिकायत के आधार पर कल्याण के डोंबिवली में मनपाड़ा पुलिस ने बुधवार रात 33 आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 376 (बलात्कार), 376 (एन) (बार-बार बलात्कार), 376 (डी) (सामूहिक बलात्कार), 376 (3) (सोलह वर्ष से कम उम्र की लड़की से बलात्कार) और यौन अपराधों से बच्चों के संरक्षण (पॉक्सो) अधिनियम के प्रावधान के के तहत मामला दर्ज किया गया है.

 

यह भी पढ़ें :

REET Exam 2021 : रीट अभ्यार्थियों के लिए राजस्थान सरकार का बड़ा ऐलान, परीक्षा के दिन बस में कर सकेंगे फ्री यात्रा

UNICEF Report: पिछले दशक से बच्चों के आहार में सुधार नहीं, कोरोना के दौरान बिगड़े हालात