गुरुग्राम. हरियाणा के गुरुग्राम में एक अजीबो-गरीब मामला सामने आया. यहां के फोर्टिस हॉस्पिटल के डॉक्टरों ने एक 8 साल की बच्ची के दिमाग से 100 से ज्यादा अंडे निकाले. इस बच्ची के सिर में पिछले काफी दिनों से तेज दर्द हो रहा था और उसको दौरे भी पड़ रहे थे. जब इस बच्ची को इलाज के लिए अस्पताल लाया गया और जांच की गई तो पता चला कि बच्ची के दिमाग में कई सिस्ट हैं.

शुरुआती लक्षण न्यूरोसिस्टीसरकोसिस बीमारी बताई गई थी और बच्ची के दिमाग में सूजन भी आ गई थी. इस सूजन को कम करने के लिए बच्ची को हेवी डोज की दवाइयां दी गईं लेकिन फिर भी बच्ची के सिर का दर्द कम नहीं हुआ और मिर्गी के दौरे भी बंद नहीं हुए. बच्ची को सांस लेने में भी दिक्कत आ रही थी. इसके बाद जब बच्ची का सिटी स्कैन किया गया तो पता चला कि उसके दिमाग में 100 से ज्यादा सिस्ट हैं.

डॉक्टर्स ने इन्हें टेपवर्म अंडे बताया. बीमारी का पता चलने के बाद इन अंडों को ऑपरेशन के माध्यम से बाहर निकाला गया. ऑपरेशन के बाद बच्ची की हालत ठीक है और उसकी रिकवरी भी हो रही है. इस मामले पर फोर्टिस हॉस्पिटल के डॉक्टर का कहना है कि इस इनफेक्शन के पीछे गलती से टेपवर्म संक्रमित खाना खाने की वजह से हुआ. नर्व सिस्सटम के जरिए अंडे उसके दिमाग में पहुंच गए. इस कारण उसे तेज सिरदर्द और मिर्गी के दौरे महसूस होने लगे.

बीमारी का पता चलने पर उसका ऑपरेशन किया गया. अब बच्ची की हालत ठीक है. उसका बढ़ा हुआ वजन भी कम होने लगा है. डॉक्टर ने बताया कि मीट (मांस), फूलगोभी और कुछ तरह के फल खाने से टेपवर्म का कीड़ा पेट के रास्ते मस्तिष्क में चला जाता है. वहां पर अंडे देना शुरू कर देता है. समय पर इलाज न मिलने से यह जानलेवा भी हो सकता है.

लोगों को चाहिए कि मांस, सब्जी और फल खाने से पहले उसे ठीक तरह से धो लेना चाहिए. अंडे की वजह से अकसर सेंट्रल नर्व के जरिए न्यूरोसिस्टीसरकोसिस, कंकाल की मांसपेशियों, आंखों और त्वचा प्रभावित होने लगते हैं.

Sonali Bendre Cancer: क्या है हाई ग्रेड कैंसर जिससे जूझ रही हैं बॉलीवुड एक्ट्रेस सोनाली बेंद्रे ?

क्या स्तनपान कराने से औरतों का बॉडी फिगर बिगड़ जाता है ?

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App