दिल्ली। असम में पिछले कुछ दिनों से भारी बारिश और तूफान का कहर जारी है। असम राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने इसको लेकर एक रिपोर्ट भी जारी की है जिसमें बताया गया है कि पिछले शुक्रवार को 8 लोगों की मौत हो गई थी। कहर से राज्य के दो नाबालिग सहित 14 लोगों की मौत हो चुकी है। यह मौते राज्य के डिब्रूगढ़ में चार, पीटा में 3, गोलपारा में एक मौत हुई. वहीं शनिवार कीआधी रात को बिजली गिरने की वजह से छह ओर लोगों की जाम चली गई. बता दें कि जिन छह लोगों की मौत हुई उनमें से तीन तिनसुकिया में दो बाक्सा में और एक डिब्रूगढ़ में हुई. इस भारी बारिश और तूफान से 21 हजार से ज्यादा लोग प्रभावित हो गए हैं। तूफान की वजह से गोलपारा, बारपेटा, डिब्रूगढ़ के इलाकों में घरों में जमकर नुकसान व भारी संख्या में संपत्तियों की नष्ट हो हुई। प्रदेश में अब तक 7344 घर ऐसे हैं जो सबसे ज्यादा प्रभावित हुए हैं।

असम में आज भी भारी बारिश का रह सकता कहर

असम में मौसम विभाग ने15 मई को भारी बारिश का कहर जारी रहने का अनुमान लगाया है. मौसम विभाग ने बताया है कि हिमाचल प्रदेश, असम, केरल और तमिलनाडु में भारी बारिश हो सकती. आपदा प्रबंधन ने बताया कि तूफान और बारिश की वजह से बहुत पेड़ और बिजली के खंभे उखड़ गए हैं. बता दें कि पूर्वोत्तर के कुछ हिस्सों में महीने की शुरुआत से ही मौसम विभाग ने शुरुआत में ही एक एडवाइजरी में अरुणाचल प्रदेश, मेघालय में भारी बारिश की चेतावनी दी थी.

मेघालय में भी तूफान से प्रभावित लोग

गुरुवार को मेघालय के री-भोई में चक्रवाती तूफान ने 1000 से अधिक घर प्रभावित हुए हैं। जानकारी के मुताबिक प्रभावित इमारतों में एक वीडिओ में कार्यालय, एक स्कूल और एक लोक निर्माण विभाग के कार्यालय एक पशु चिकित्सा कार्यालय भी शामिल है.

 

यह भी पढ़े-

 

एलपीजी: आम लोगों का फिर बिगड़ा बजट, घरेलू रसोई गैस सिलेंडर 50 रूपये हुआ महंगा

SHARE

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर