नई दिल्ली. दिल्ली स्थित करोल बाजार में एक होटल में मंगलवार तड़के भीषण आग लग गई. यह आग करोल बाग बाजार में स्थित ‘होटल अर्पित प्लेस’ में लगी थी. समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, आग की चपेट में आने से अब तक 17 लोगों की मौत और 5 लोग घायल बताए जा रहे हैं. दिल्ली सरकार ने इस मामले को लापरवाही बताते हुए हादसे की मजिस्ट्रेट जांच के आदेश दिए हैं. वहीं मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने हादसे में मारे गए लोगों के परिजनों को पांच लाख रुपए आर्थिक सहायता दिए जाने की घोषणा की है.

दिल्ली दमकल विभाग के अधिकारी विपिन केंतल ने बताया कि दमकल विभाग की करीब 30 गाड़ियां आग पर काबू पाने में लगी हुई थीं और राहत और बचाव कार्य पूरा हो चुका है. अधिकारी ने यह भी बताया कि कॉरीडोर में लड़की का प्रयोग होने की वजह से लोगों को निकलने में काफी दिक्कत हुईं. वहीं दो लोगों बिल्डिंग से कूदकर अपनी जान बचाई. दिल्ली होटल एसोसिएशन के उपाध्यक्ष बालन मानी ने बताया कि होटल में आग बिजली के तारों के कारण सभी कमरों में फैल गई. उन्होंने बताया कि होटल को लाइसेंस जारी करते समय सभी मानकों का ख्याल रखा गया था.

खबरों के मुताबिक होटल में यह आग सुबह करीब चार बजे लगी, जिसके बाद वहां अफरातफरी का माहौल हो गया. लोग जान बचाने के लिए इधर-उधर भागने लगे. गौरतलब है कि बीते कुछ दिन पहले ऐसा ही एक हादसा नोएडा स्थित कैलाश हॉस्पिटल में भी देखने को मिला था. जहां भीषण आग लगी थी और मरीजों को बाहर निकालने में दमकल कर्मियों को काफी परेशानी हुई थी.

Highlights

दिल्ली सरकार में मंत्री सत्येंद्र जैन ने मजिस्ट्रेट जांच के आदेश दिए

दिल्ली सरकार में मंत्री सत्येंद्र जैन ने करोल बाग में स्थित होटल में आग लगने के कारणों की मजिस्ट्रेट जांच के निर्देश दिए हैं. उन्होंने कहा कि अगर कोई दोषी पाया जाता है तो कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

Fire In Delhi Karol Bagh: लापरवाही के कारण लगी आग: सत्येंद्र जैन

दिल्ली की आम आदमी पार्टी की सरकार में मंत्री सत्येंद्र जैन ने बताया कि यह आग लापरवाही के कारण लगी थी. उनका कहना था कि नियम के मुताबिक बिल्डिंग चार मंजिला बनाई जानी थी जोकि छह मंजिल की बनाई गई थी.

Fire In Delhi Karol Bagh: करोल बाग होटल में आग से 17 की मौत

करोल बाग स्थित होटल में लगी भीषण आग में अब तक 17 लोगों की मौत हो चुकी है. वहीं, आग में झुलसने से करीब पांच लोगों गंभीर रूप से घायल होने की भी खबर है.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App