July 17, 2024
  • होम
  • हिमाचल उपचुनाव में बीजेपी को सता रहा बगावत का डर, रूठों को मनाए बिना मुश्किल होगी सियासी सफर

हिमाचल उपचुनाव में बीजेपी को सता रहा बगावत का डर, रूठों को मनाए बिना मुश्किल होगी सियासी सफर

धर्मशाला: हिमाचल प्रदेश में 10 जुलाई को तीन विधानसभा सीटों पर उपचुनाव होना है. देहरा, हमीरपुर और नालागढ़ में होने जा रहे उपचुनाव के परिणाम 13 जून को आएंगे. हिमाचल प्रदेश में उपचुनाव के लिए बीजेपी ने सभी प्रत्याशियों की घोषणा कर दी है. आपको बता दें कि प्रदेश की तीन विधानसभा सीटों पर निर्दलीय विधायकों के इस्तीफे देने के कारण यह उपचुनाव हो रहे हैं.

इस स्थिति में बीजेपी आलाकमान के सामने बगावत का खतरा पैदा हो गया है. वहीं साल 2022 में बीजेपी के टिकट पर चुनाव लड़ चुके पुराने नेता नाराज हो सकते हैं. आपको बता दें कि साल 2022 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी नाराज नेताओं के कारण मिशन रिपीट नहीं कर सकी. वहीं 1 जून को 6 विधानसभा सीटों पर हुए उपचुनाव में भी बीजेपी को नाराजगी भारी पड़ी. कुल 6 में से 4 सीटों पर बीजेपी को सफलता मिली. अब बीजेपी ने हमीरपुर से आशीष शर्मा, देहरा से होशियार सिंह और नालागढ़ से कृष्ण लाल ठाकुर को चुनावी रण में उतारा है.

आपको बता दें कि कृष्ण लाल ठाकुर 2012 से 2017 तक बीजेपी के ही विधायक रहे हैं. साल 2017 में लखविंदर राणा से वो चुनाव हार गए. इसके बाद साल 2022 में कृष्ण लाल ठाकुर की जगह कांग्रेस से आए लखविंदर राणा को बीजेपी ने टिकट दिया. इसके बाद बीजेपी से बगावत कर निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर कृष्ण लाल ठाकुर ने चुनाव जीत लिया. अब कृष्ण लाल ठाकुर की बीजेपी में वापसी हो चुकी है. वहीं कांग्रेस से बीजेपी में आए लखविंदर राणा नाराजगी जाहिर कर चुके हैं. उन्होंने हिमाचल बीजेपी अध्यक्ष राजीव बिंदल के सामने कांग्रेस छोड़ने की गलती को स्वीकार कर लिया था.

येभी पढ़ें…

बद्रीनाथ जा रहा श्रद्धालुओं से भरा टेंपो ट्रैवलर खाई में गिरा, 10 लोगों की गई जान

Tags

विज्ञापन

शॉर्ट वीडियो

विज्ञापन