ग्वालियरः पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की अस्थियां बुधवार को मध्य प्रदेश के ग्वालियर पहुंची. जहां 10 नदियों में दिवंगत अटल जी की अस्थियों का विसर्जन किया गया. राज्य की शिवराज सिंह चौहान ने इस मौके पर एक कार्यक्रम आयोजित किया जिसमें अटलजी के परिवार वालों को भी आमंत्रित किया गया था जो महज एक औपचारिकता भर थी क्योंकि कार्यक्रम खत्म होने के बाद पूर्व पीएम के परिजनों की किसी ने सुध तक नहीं लीं उन्हें खुद ही ऑटो से घर जाना पड़ा. ग्वालियर में हुए इस कार्यक्रम का एक वीडियो वायरल हुआ जिसमें अटल जी की भतीजी और उनका परिवार ऑटो खोजते दिख रहे हैं.

आपको बता दें कि अटल जी से सम्मान में आयोजित इस कार्यक्रम में उनकी भतीजी कांति तिवारी, उनके पति ओपी मिश्रा और बेटी कविता को आमंत्रित किया गया था. जैसेे ही कार्यक्रम खत्म हुआ आयोजकों ने उनकी सुध तक नहीं ली किसी को यह भी ध्यान नहीं रहा कि उन्हें घर भेजने की व्यवस्था भी करनी चाहिए. आखिरकार अटलजी के परिजन ऑटो से घर लौटे. बताया जा रहा है कि उन्हें लेने गाड़ी तक नहीं भेजी गई थी.

इस मामले को लेकर एसडीएम दिनेश चंद्र शुक्ला का कहना है कि सरकार के आदेश के बाद हम लोगों ने राजकीय मेहमानों के लिए वाहनों की व्यवस्था की थी. उन मेहमानों कि लिस्ट में अटलजी की दत्तक पुत्री नमिता कौल भट्टाचार्य, उनके भतीजे और सांसद रह चुके अनूप मिश्रा थे. जिन्हें पूरे सम्मान के साथ लाया और भिजवाया गया. वहीं अटल जी की भतीजी कांति तिवारी का कहना है कि वहां सभी कार वाले थे केवल हम ही ऑटो वाले थे. 

यह भी पढ़ें- VIDEO: वाजपेयी की श्रद्धांजलि सभा में ठहाके मारकर हंसते दिखे रमन सिंह के मंत्री अजय चंद्राकर और बृजमोहन अग्रवाल

अटल बिहारी वाजपेयी सर्वदलीय प्रार्थना सभा: लालकृष्ण आडवाणी बोले- हम साथ में फिल्म देखते तो कभी किताबें पढ़ते थे

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App