रायपुरः सोशल मीडिया मैसेजिंग एप व्हाट्सएप के जरिए फैली अफवाह ने एक और युवक की जान ले ली. छत्तीसगढ़ के सरगुजा जिले में बच्चा चोरी के शक में ग्रामीणों ने एक युवक को पीट-पीटकर मार डाला. दरअसल पिछले दो महीने से जिले के कई गांवों में इस बात को लेकर दहशत है कि गांव में बच्चा चोर घूम रहा है. शुक्रवार को जब गांव में लोगों ने एक अनजान व्यक्ति को देखा तो उससे उसके बारे में पूछा गया जब उसने उत्तर नहीं दिया तो भीड़ ने उसे बुरी तरह पीट दिया.

कुछ न बता पाने के चलते ग्रामीणों को लगा कि वह बच्चा चोर गैंग का सदस्य है इसी शक में ग्रामीणों ने उसे डंडों से पीट-पीटकर मार डाला. पुलिस ने इस मामले में गांव के 10 लोगों को गिरफ्तार किया है. गांव वालों के मुताबिक गांव में ये अफवाह है कि बच्चा चोरी करने वाले भेष बदलकर गांव में आते हैं और बच्चों को उठाकर ले जाते हैं और उनकी किडनी बेंच देते हैं. इस शक में गांव में घूम करे एक 40 वर्ष के शख्स की पीट-पीटकर हत्या कर दी.

आपको बता दें कि बच्चा चोरी के शक में मामले देश के कई हिस्सों में लोगों की हत्याओं की घटना सामने आई हैं. लोग केवल शक के आधार पर ही दूसरे लोगों की जान लेने से पीछे नहीं हट रहे हैं. इसी तरह झारखंड, तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, कर्नाटक और असम में करीब 22 लोगों के साथ मारपीट की जा चुकी है. अब इसी तरह की घटना छत्तीसगढ़ के सरगुजा जिले से सामने आई है जिसमें बच्चा चोरी करने वाले गैंग का सदस्य होने के शक में भीड़ ने शख्स की पीट-पीटकर हत्या कर दी.

यह भी पढ़ें- गोकशी के शक में मारे गए कासिम का भाई बोला- उसे तड़पा-तड़पा कर मारा, पानी भी नहीं दिया

क्राइम ब्रांच में फूट-फूटकर रोए दाती महाराज, पुलिस करा सकती है नपुंसकता की जांच

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App