उत्तराखंड/ दिल्ली पुलिस ने उत्तराखंड के कोटद्वार में नकली रेमडेसिविर इंजेक्शन बनाने वाली एक दवा कंपनी का भंडाफोड़ किया है. पुलिस ने इस मामले में कोटद्वार, रुड़की और हरिद्वार में छापेमारी की। वहां से सात आरोपियों को गिरफ्तार किया। जिनसे पूछताछ की जा रही है। इनके पास से 196 रेमडेसिविर के नकली इंजेक्शन भी बरामद किए गए हैं।

नकली रेमडेसिविर इंजेक्शन की मार्केट में सप्लाई हो रही थी। इस मामले पर खुलासा करते हुए दिल्ली सरकार ने बड़ी सफलता हासिल की है। दिल्ली पुलिस कमिश्नर द्वारा गठित की गई स्पेशल टीम ने उत्तराखंड के कोटद्वार में दवा फैक्ट्री पर छापा मारा। वहां से 196 रेमडेसिविर के नकली इंजेक्शन भी बरामद किए गए और इंजेक्शन पैक करने के लिए काम आने वाले 3000 वायल्स भी पुलिस ने बरामद किए हैं। यह लोग एक इंजेक्शन को 25 हजार रुपये में बेचते थे।।

पुलिस पूछताछ में आरोपियों ने बताया, कि अब तक दो हजार से अधिक लोगों को नकली रेमडेसिविर इंजेक्शन बेचे जा चुके हैं। पुलिस का कहना है कि आरोपियों से ये जानकारी लगाने का प्रयास किया जा रहा है कि उनके साथ और कौन शामिल है और अभी तक इनके द्वारा कहां कहां नकली रेमडेसिविर इंजेक्शन बेचे गए हैं।

देश के कई राज्यों में कोरोना की दूसरी लहर से हाहाकार मचा हुआ है। उत्तराखंड में भी कोरोना संक्रमित मरीजों के लिए रेमडेसिविर इंजेक्शन का इस्तेमाल किया जा रहा है। यही कारण है कि कई जगहों पर इंजेक्शन को लेकर भारी किल्लत देखने को मिल रही है और इसकी कालाबाजारी तेजी से बड़ रही है।

Delhi Police seizes 170 oxygen Concentrators : 170 ऑक्सीजन कॉन्सन्ट्रेटर्स और दो लग्जरी कारों के साथ पुलिस ने चार लोगों को किया गिरफ्तार

Bihar Corona Death: कोरोना से बिहार सरकार के मुख्य सचिव अरुण कुमार सिंह की मृत्य, अस्पताल में चल रहा था इलाज

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर