Election Commission Notice To SP

नई दिल्ली, Election Commission Notice To SP कोरोना संकट को देखते हुए इलेक्शन कमीशन ने किसी भी प्रकार की चुनावी रैली करने पर रोक लगाई है. इस दौरान उत्तरप्रदेश की राजधानी लखनऊ में वर्चुअल रैली के नाम पर समाजवादी पार्टी ने भारी भीड़ जुटा ली थी. चुनाव आयोग ने मामले को संज्ञान में लेते हुए 24 घंटों के अंदर कार्रवाई की. अब तक मामले में 2500 से अधिक समाजवादी कार्यकर्ताओं के खिलाफ शिकायत की जा चुकी है.

कोरोना प्रोटोकॉल की उड़ाई गयी थी धज्जियां

चुनाव आयोग ने चुनावी रैलियों पर लगाए प्रतिबंध को 15 जनवरी से बढाकर 22 जनवरी तक कर दिया था. इसका कारण कोरोना के बढ़ते मामले थे. चुनाव आयोग के इस आदेश की धज्जियां 14 जनवरी को लखनऊ में हुई समाजवादी पार्टी की रैली में उड़ती देखी गयी. न तो सोशल डिस्टैन्सिंग, न ही कोई कोरोना प्रोटोकॉल का पालन किया गया. इस पर स्थानीय डीएम ने जांच के आदेश दिए जिसके बाद सपा कार्यकर्ताओं के खिलाफ शिकायत दर्ज़ हुई थी. अब इस मामले में चुनाव आयोग की ओर से समाजवादी पार्टी को नोटिस जारी कर दिया गया है. यदि 24 घंटों में कोई जवाब नहीं आया तो पार्टी के कार्यकर्ताओं पर सख्त कार्रवाई हो सकती है.

समाजवादी पार्टी के लिए अहम रही रैली

सपा की जिस रैली को लेकर बवाल मचा हुआ है उस रैली से पार्टी काफी फ़ायदा हुआ है. इस कार्यक्रम के ज़रिये उत्तरप्रदेश में ओबीसी समाज का बड़ा चेहरा रहे स्वामी प्रसाद मौर्य भी समाजवादी पार्टी में शामिल हो गए थे. उनके साथ-साथ कई विधायक और मंत्री भी भाजपा से उठकर समाजवादी पार्टी के पलड़े में आ बैठे थे. राजनीतिक दृष्टि से ये रैली सपा के लिए अहम तो रही, पर इस रैली में टूटते कोरोना प्रोटोकॉल्स और कोरोना गाइडलाइन्स से अब पार्टी की मुसीबत बढ़ती नज़र आ रही है.

 

यह भी पढ़ें:

Covid Case Update फिर बड़ा उछाल, 1.94 लाख से ज्यादा नए केस, ऐक्टिव पहली बार 9 लाख पार

Swami Prasad Maurya Resigned: चुनाव से पहले ही यूपी में बीजेपी को झटका, स्वामी प्रसाद मौर्या ने दिया इस्तीफ़ा

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर

SHARE