नई दिल्ली: मॉनसून का इंतजार कर रहे दिल्ली वालों के लिए बारिश मुसीबत का कारण बनकर आई है. मौसम की पहली बारिश के साथ ही दिल्ली में 66 लोग डेंगू की चपेट में आ गए हैं. एमसीडी की रिपोर्ट के मुताबिक जून महीने में 57 मलेरिया के केस रजिस्टर हुए हैं. गौरतलब है कि पिछले साल दिल्ली में 2798 डेंगू के मामले दर्ज किए गए थे जबकि साउथ दिल्ली में भी चार मौतें मच्छरों के काटने वाली बीमारियों की वजह से हुई थी.

रिपोर्ट के मुताबिक इस साल 13 जुलई तक डेंगू के 27 मामले दर्ज हो चुके हैं. जून में 16, मई में 3, अप्रैल में 2, मार्च में चार और जनवरी-फरवरी में एक एक मामला दर्ज हो चुका है. मच्छर के काटने वाली बीमारियां अक्सर जुलाई से नवंबर के बीच होती है लेकिन ये समयकाल दिसंबर अंत तक भी जा सकता है. डेंगू और मलेरिया के अलावा चिकुनगुनिया के भी मामले लगातार दर्ज हो रहे हैं. मलेरिया के 66 मामले मई में दर्ज हुए हैं. 1 मामला अप्रैल में भी दर्ज हुआ है. इसके अलावा 14 चिकुनगुनिया के भी मामले हैं जिनमें 9 मामले जून में, दो फरवरी में और मार्च, अप्रैल और मई में एक एक मामला है.

डॉक्टरों के मुताबिक इस मौसम में डेंगू, मलेरिया और चिकुनगुनिया के बढ़ने की संभावना सबसे ज्यादा होती है इसलिए ज्यादा से ज्यादा सावधानियां बरतनी चाहिए. लोगों को चाहिए कि वो ये सुनिश्चित करें कि उनके आसपास कहीं भी पानी ना जमा हो, पानी की टंकी का ढक्कन हमेशा बंद रखें, कहीं भी पानी जमा ना होने दें क्योंकि डेंगू का मच्छर साफ पानी में ही पनपता है. खुले कपड़े ना पहने. घर और आसपास सफाई का खास ध्यान रखें. इस साल दिल्ली में 38,518 घरों में डेगू के मच्छर का लावा मिला है और 38,294 लोगों को कानूनी नोटिस भी दिया गया है.

TS Inter Supplementary Result 2019: तेलंगाना स्टेट इंटरमीडिएट सप्लीमेंट्री फर्स्ट ईयर एग्जाम रिजल्ट इस हफ्ते हो सकता है जारी, www.bie.telangana.gov.in पर करें चेक

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App