नई दिल्ली। सक्रिय पश्चिमी विक्षोभ से दिल्ली-एनसीआर के लोगों को राहत मिली है. पिछले रविवार से लगातार लू नहीं चल रही है. मंगलवार सुबह से गर्मी कम है, लेकिन उमस बढ़ गई है. भारतीय मौसम विभाग ने मंगलवार को आंशिक रूप से बादल छाए रहने का अनुमान जताया है.

वरिष्ठ वैज्ञानिक आरके जेनामणि ने बताया कि दिल्ली, पंजाब, हरियाणा और उत्तर प्रदेश समेत भारत के ज्यादातर हिस्सों में लू थम गई है. पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय है. इससे दिल्ली, लखनऊ और जयपुर में हवा की दिशा में बदलाव महसूस किया जा सकता है. अगले छह-सात दिनों में पूर्व से बहने वाली हवा भी तेज हो जाएगी, जिससे तापमान में वृद्धि नहीं होगी.

इस बीच दिल्ली में मौसम के उतार-चढ़ाव के बीच बुधवार और गुरुवार को मौसम करवट ले सकता है. हल्की बारिश के साथ 40 से 50 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलेगी. इससे गर्मी से राहत मिलने की संभावना है, जबकि पूरे सप्ताह तापमान 40 डिग्री के आसपास या नीचे बना रहेगा.

इससे पहले सोमवार को दिल्ली में भी धूप और बादलों के बीच लुका-छिपी देखने को मिली थी. कभी तेज धूप होती तो कभी आंशिक बादल छाने से सूर्य की तीव्रता थोड़ी नरम पड़ जाती. सोमवार को अधिकतम तापमान सामान्य से दो डिग्री अधिक 40.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जबकि न्यूनतम तापमान सामान्य से तीन डिग्री अधिक 27.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. हवा में नमी का स्तर 32 से 68 फीसदी के बीच रहा. नजफगढ़ में अधिकतम तापमान 42.5 डिग्री सेल्सियस रहा, जबकि मयूर विहार न्यूनतम तापमान 28.6 डिग्री सेल्सियस के साथ सबसे गर्म क्षेत्र रहा.

रविवार को भी दिल्ली-एनसीआर की हवा खराब श्रेणी में दर्ज की गई. केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) द्वारा जारी वायु गुणवत्ता बुलेटिन के अनुसार, दिल्ली का वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 218 ​​रहा.वहीं, पीएम 2.5 का स्तर 65 और पीएम 10 का स्तर दर्ज किया गया। 217 माइक्रोग्राम प्रति घन मीटर.

 

SHARE

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर