नई दिल्लीः दिल्ली यूनिवर्सिटी स्टूडेंट यूनियन (DUSU) चुनाव की आहट शुरू हो चुकी है. डूसू के चुनाव में आम आदमी पार्टी (AAP) की स्टूडेंट विंग छात्र युवा संघर्ष समिति (CYSS) और कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया, मार्किस्ट-लेनिनिस्ट (CPI-ML) की स्टूडेंट विंग ऑल इंडिया स्टूडेंट एसोसिएशन (AISA) ने साथ मिलकर चुनाव लड़ने का फैसला किया है. बुधवार को दिल्ली सरकार में मंत्री गोपाल राय ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में इसकी जानकारी दी.

गोपाल राय ने बताया कि आम आदमी पार्टी ने निर्णय लिया है कि दिल्ली विश्वविद्यालय के अंदर सकारात्मक राजनीति की शुरुआत के लिए इस बार DUSU के चुनाव में CYSS और AISA मिलकर चुनाव लड़ेंगे. डूसू चुनाव में AISA की तरफ से अध्यक्ष और उपाध्यक्ष उम्मीदवार होंगे और CYSS की तरफ से सेक्रेटरी और जॉइंट सेक्रेटरी के उम्मीदवार होंगे.

गोपाल राय ने आगे कहा कि हम DUSU के साथ मिलकर छात्रों की जरूरतों को पूरा करेंगे. जिस तरह से छात्राओं की सुरक्षा को लेकर मांग आई है, हम दिल्ली विश्वविद्यालय के सभी कॉलेजों और कैंपसों में सभी जगह CCTV कैमरे लगाने का काम करेंगे ताकि हम छात्रों को सुरक्षित माहौल दे सकें. चुनाव साथ लड़ने के ऐलान के बाद से CYSS पदाधिकारी भी बेहद उत्साहित हैं.

बताते चलें कि दिल्ली विश्वविद्यालय में इस साल 12 सितंबर को छात्रसंघ चुनावों के लिए वोटिंग होगी. इसके लिए 4 सितंबर तक नामांकन पत्र दाखिल किए जा सकेंगे. 5 सितंबर को नाम वापस लिए जा सकेंगे और इसी दिन शाम 5 बजे प्रत्याशियों की फाइनल लिस्ट जारी कर दी जाएगी. नॉमिनेशन पेपर नॉर्थ कैंपस के कॉंफ्रेंस सेंटर में दाखिल किए जा सकेंगे. अगले साल लोकसभा चुनाव होने वाले हैं और इस लिहाज से दिल्ली विश्वविद्यालय के छात्रसंघ चुनावों को काफी अहम माना जा रहा है.

DUSU के संयुक्त सचिव उमाशंकर परीक्षा में फेल, छिन सकता है पद, ABVP के टिकट पर जीता है चुनाव

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App