नई दिल्ली. दिल्ली वासियों के लिए खुशखबरी है. मेट्रो रेल सुरक्षा आयुक्त से जनकपुरी पश्चिम और कालकाजी मंदिर के बीच 25.6 किलोमीटर लंबे खंड पर यात्री सेवाएं शुरू करने की अनिवार्य मंजूरी मिल गई है. उम्मीद की जा रही है कि अब अगले सप्ताह से जनकपुरी पश्चिम से कालका जी मन्दिर के बीच मेट्रो चालू हो जाएगी. इस मेट्रो सेवा में 16 स्टेशन हैं जिनमें हौजखास और जनकपुरी पश्चिम स्टेशन दो इंटरचेंज भी हैं. 38.23 किमी लंबी पूरी मेजेंटा लाइन में कुल 25 स्टेशन हैं.

इस समय मेजेंटा लाइन की सुविधा सिर्फ कालकाजी मंदिर और बोटैनिकल गार्डन (नोएडा) के बीच ही दी जा रही है. नया खंड शुरू होने से बोटैनिकल गार्डन और जनकपुरी पश्चिम के बीच सीधा सफर शुरू हो जाएगा. इससे लोगों का काफी समय बचेगा. खास बात ये है कि हॉज खास इंटरचेंज यलो लाइन और मेजेंटा लाइन से जोड़ेगा जिसकी मदद से नोएडा से गुरूग्राम जाने वाले यात्रियों को सबसे ज्यादा सुविधा होगी. इस इंटरचेंज की वजह से यात्री नोएडा से गुरुग्राम का सफर मात्र 50 मिनट में पूरा कर पाएंगें.

दिल्ली मेट्रो के एक प्रवक्ता ने कहा कि इस अनुभाग का उद्घाटन अगले सप्ताह किया जा सकता है, जिसके बाद इसे यात्रियों के लिए खोला जाएगा. डीएमआरसी के अधिकारियों ने कहा कि वे उद्घाटन तिथि की घोषणा से पहले कुछ अंतिम कागजी कार्रवाई के पूरा होने की प्रतीक्षा कर रहे हैं. नए मेट्रो खंड में जो 16 स्टेशन होंगे वे हैं- जनकपुरी पश्चिम, दबरी मोड़, दशरथ पुरी, पालम, सदर बाजार छावनी, टर्मिनल -1 इंदिरा गांधी अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे, शंकर विहार, वसंत विहार, मुनिरका, आरके पुरम, आईआईटी, हौज खास, पंचशील पार्क, चिराग दिल्ली, ग्रेटर कैलाश, और नेहरू एनक्लेव. इंटरचेंज सुविधा जनकपुरी पश्चिम से ब्लू लाइन के लिए और हौज खास इंटरचेंज पर यलो लाइन के लिए उपलब्ध होगी.

नोएडा ही नहीं बल्कि इस मंदिर, शहर और पहाड़ी से जुड़ा है मुख्यमंत्रियों के सत्ता जाने का मिथक

केरल में सत्संग और प्रवचन करते मेट्रो मैन ई श्रीधरन का फोटो वायरल

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App