नई दिल्लीः दिल्ली पुलिस ने स्वरूप नगर इलाके से अगवा किए गए एक 7 साल के बच्चे की हत्या से जुड़ा चौंकाने वाला खुलासा किया. पुलिस ने बताया कि बच्चे के मुंहबोले चाचा ने ही उसे बीते 7 जनवरी को अगवा किया था. बच्चे को लालच देकर वह उसे अपने साथ ले गया था. पुलिस ने बताया कि आरोपी पर किसी को शक न हो इसके लिए उसने ही माता-पिता के साथ मिलकर बच्चे की गुमशुदगी की FIR दर्ज कराई थी. आरोपी को गिरफ्तार कर उससे पूछताछ की जा रही है.

डीसीपी असलम खान ने बताया कि आरोपी रिश्तेदार का नाम अवधेश है. यूपी के एटा के रहने वाले अवधेश ने अपने भतीजे आशीष को 7 जनवरी को किडनैप कर लिया था. डीसीपी ने बताया कि अवधेश को पैसों की जरूरत थी इसलिए उसने भतीजे की किडनैपिंग का प्लान बनाया. आशीष को अगवा करने के बाद वह पोल खुलने के डर से घबरा गया और उसने मासूम की बेरहमी से हत्या कर दी. अवधेश ने बच्चे की लाश को एक पॉलीथिन में पैक कर सूटकेस में रख दिया. पड़ोसियों को जब उसे घर से बदबू आने लगी तो उसने कहा कि उसके घर में चूहा मरा हुआ है.

बदबू न आए इसके लिए वह पूरे घर में परफ्यूम भी छिड़कता रहता था. पुलिस को अवधेश पर शक होने के बाद सख्ती से पूछताछ में उसने अपना गुनाह कबूल कर लिया. डीसीपी खान ने बताया कि आरोपी UPSC की परीक्षा दे चुका है. वह लोगों पर रौब झाड़ने के लिए खुद को सीबीआई अफसर बताता था. अवधेश लोगों से कहता था कि वह सबके बच्चों की नौकरी लगवा सकता है. पुलिस ने बच्चे के शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया है. पुलिस की एक टीम आरोपी से पूछताछ कर रही है.

शराबी ड्राइवर ने कार के आगे नाच रहे बारातियों को रौंदा, दो दर्जन से ज्यादा लोग घायल

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App