नई दिल्ली. जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने दिल्ली में कर्फ्यू को 7 जून तक बढ़ा दिया है. दिल्ली में 7 जून को सुबह 5 बजे तक आवश्यक गतिविधियों को छोड़कर व्यक्तियों की आवाजाही पर निर्णय लिया लिया गया है.

यह होंगी शर्तें

थर्मल स्क्रीनिंग, सैनिटाइजर का इस्तेमाल करना अनिवार्य होगा. वर्क आवर्स अलग-अलग शिफ्ट में होंगे ताकि एक समय पर ज़्यादा भीड़ न हो
जिलाधिकारी के द्वारा रैंडम RT-PCR और रैपिड टेस्ट कराये जाएंगे. सभी श्रमिक और कामगारों को कोरोना से जुड़ी सभी शर्तों और व्यवहार जैसे मास्क लगाना सोशल डिस्टेंसिंग बरतना अनिवार्य होगा. डीएम के अधीन स्पेशल टीम बनाई जाएंगी जो समय समय पर निरीक्षण करेंगी.
वर्कर्स को ई-पास के ज़रिए मूवमेंट की इजाज़त होगी. मालिक, एम्प्लॉयर्स,कॉन्ट्रैक्टर्स पोर्टल पर डिटेल्स देकर अपने वर्कर्स/ कर्मचारियों के लिए ई-पास आवेदन कर सकेंगे. नियम उल्लंघन करने पर मैनुफैक्चरिंग यूनिट या कंस्ट्रक्शन साइट को बन्द भी किया जा सकता है और DDMA एक्ट के तहत कार्रवाई भी की जाएगी.

इससे पहले, दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल के साथ बैठक में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि अनलॉक का समय आ गया है. उन्होंने जोर देकर कहा कि इस कोविड महामारी के दौरान और एक महीने के तालाबंदी के कारण भी दिल्लीवासियों को बहुत नुकसान हुआ है. मजदूर और दैनिक वेतन भोगी के रूप में काम करने से अपनी आजीविका खो गई है. उसी संबंध में सरकार चरणबद्ध तरीके से राज्य को अनलॉक करेगी और हर चरण के साथ स्थिति के अनुसार निर्णय बदलेगी.

दिल्ली में रोजाना कोरोनावायरस के मामलों में गिरावट देखी जा रही है. शनिवार को राजधानी में 956 नए संक्रमण और 122 मौतें दर्ज की गईं. जबकि 22 मार्च के बाद यह पहला मौका था जब दिल्ली के दैनिक मामले 1,000 से नीचे आए. राष्ट्र कोरोनावायरस अपडेट के बारे में लेते हुए, भारत ने शनिवार की सुबह 1,73,790 नए कोरोनोवायरस मामलों की सूचना दी, जनवरी 2020 में पहली बार महामारी फैलने के बाद से कुल मिलाकर 2,77,29,247 हो गए.

AAP MLA Attack On Central Government : वैक्सीन को लेकर आप विधायक आतिशी ने उठाए सवाल, कहा- क्या घोटाले की वजह से राज्यों को फ्री नहीं मिल रही वैक्सीन

Modi govt 7th Anniversary : बीजेपी के 7 साल पूरे होने पर कांग्रेस ने गिनाई 7 भूल, जारी की लिस्ट

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर